26 C
Mumbai
Thursday, July 18, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

इस्राइल सेना ने कीं सारी हदें पार, घायल फलस्तीनी को जीप के आगे बांधकर घुमाया; अब हर ओर से उठ रही आवाज

हमास और इस्राइल बीते आठ महीने से जंग लड़ रहे हैं। इस्राइल द्वारा हमास को खत्म करने का संकल्प गाजा पट्टी के लोगों पर भारी पड़ रहा है। गाजा में पैदा हुई मानवीय परिस्थितियों को लेकर दुनिया भर के लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। वहीं, इस्राइल की परेशानियां भी बढ़ती जा रही है। दरअसल, एक वीडियो सामने आया है, जिसमें दिखाई दे रहा है कि इस्राइली सेना एक घायल फलस्तीनी को जीप के बोनेट पर बांधकर ले जा रही है। इस वीडियो के सामने आने पर इस्राइल की किरकिरी हो रही है।

इस्राइली सैनिक शनिवार को वेस्ट बैंक के जेनिन में रेड के दौरान एक घायल फलस्तीनी को अपनी गाड़ी के आगे बांधकर घुमाते नजर आए। उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दरअसल, इस्राइल की सेना कुछ वॉन्टेड फलस्तीनियों को पकड़ने के लिए वेस्ट बैंक के वादी बुरकिन इलाके में गए थे।

इस्राइली रक्षा बलों ने घटना की पुष्टि की है। उसने कहा कि वांछित संदिग्धों को पकड़ने के लिए शुरू किए गए आतंकवाद-रोधी अभियान के दौरान गोलीबारी में व्यक्ति घायल हो गया था। हालांकि, सेना ने घायल शख्स को एक संदिग्ध बताया है। इस्राइली सेना ने एक बयान में इस बात को भी माना कि उसके सैनिकों ने गाजा के पश्चिमी तट के जेनिन शहर में छापेमारी के दौरान एक घायल फलस्तीनी व्यक्ति को अपने जीप के आगे बांधकर प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया है।

सेना ने एक बयान में कहा कि सैनिकों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी के दौरान एक संदिग्ध घायल हो गया और उसे पकड़ लिया गया। आदेशों और मानक संचालन प्रक्रियाओं का उल्लंघन करते हुए संदिग्ध को एक वाहन के ऊपर बांधकर सेना द्वारा ले जाया गया। घटना के वीडियो में सेना का आचरण आईडीएफ के मूल्यों के अनुरूप नहीं है।

रक्षा बलों ने आगे कहा कि घटना की जांच की जाएगी और उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। साथ ही, घायल व्यक्ति को इलाज के लिए फलस्तीनी रेड क्रिसेंट में भेज दिया गया है। बता दें, जेनिन लंबे समय से फलस्तीनी समूहों का गढ़ रहा है। इस्राइली सेना नियमित रूप से शहर और आसपास के शरणार्थी शिविर में छापेमारी करती रहती है। 

आठ माह से जारी जंग
हमास ने सात अक्तूबर को इस्राइली शहरों पर पांच हजार से ज्यादा रॉकेट दागकर हमले की शुरुआत की थी। इसके बाद हमास के आतंकियों ने इस्राइल में घुसकर लोगों को मौत के घाट उतारा। इसके जवाब में इस्राइल ने हमास आतंकियों के खिलाफ गाजा में ऑपरेशन शुरू किया था। इस ऑपरेशन में गाजा स्थित हमास के ठिकानों पर जबरदस्त बमबारी की गई है, जिससे अधिकतर गाजा खंडहर में तब्दील हो गया है। अब तक इस्राइल और गाजा में कुल मिलाकर 34,622 लोगों की मौत हो चुकी है।

फलस्तीनी अधिकारियों के अनुसार, गाजा युद्ध शुरू होने के बाद से वेस्ट बैंक में कम से कम 549 फलस्तीनियों की मौत हो गई है।इस्राइल के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इसी अवधि में वेस्ट बैंक में फलस्तीनियों के हमलों में कम से कम 14 इस्राइली मारे गए हैं।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

spot_img
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »