28 C
Mumbai
Saturday, July 2, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

झोलाछाप डॉक्टर से इलाज करवाना पड़ा महंगा, 20 लोग हुये HIV संक्रमित। —— रिर्पोट – पी के लोधी

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले से बेहद गंभीर मामला सामने आया है। जहां एक झोलाछाप डॉक्टर ने अपनी लापरवाही के चलते 20 लोगों में एचआईवी फैला दिया। झोलाछाप डॉक्टर ने बाइक पर घूम-घूम कर लोगों का इलाज किया। एक ही इंजेक्शन का कथित तौर पर बार-बार इस्तेमाल करने से करीब 20 लोग एचआईवी संक्रमित हो गए।
जानिए पूरा मामला 
सुत्रों के मुताबिक बांगरमऊ के कुछ गांव में एक बाइक सवार डॉक्टर ने काफी लोगों का इलाज किया। जब झोलाछाप डॉक्टर से इलाज करवाने वाले लोगों में एचआईवी के लक्षण दिखाई दिए तो उनकी जांच करवाई गई। जिनमें से 20 लोगों में एचआईवी पाया गया। जिसके चलते बांगरमऊ थाना पुलिस ने एक अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
हेल्थ कैंप में लोगों में एचआईवी के लक्षण मिले
बताया जा रहा है कि यह मामला नवंबर 2017 में सामने आया। इसके बाद जब बांगरमऊ तहसील के कुछ गांव में एक एनजीओं ने हेल्थ कैंप लगाया तो इस दौरान कई लोगों में एचआईवी के लक्षण मिले। इसके बाद उन्हें जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। तो वहां कई लोगों में एचआईवी पाया गया।
झोलाछाप डॉक्टर ने लगाया संक्रमित इंजेक्शन
एचआईवी ग्रसत लोगों से जब पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि क्षेत्र में लोगों का इलाज करने वाला एक झोलाछाप ने एक इंजेक्शन का बार-बार इस्तेमाल करता था। अंदाजा लगाया जा रहा है कि झोलाछाप ने वह इंजेक्शन किसी एचआईवी पीड़ित को लगाया होगा। इससे उसकी सुई संक्रमित हो गई होगी। फिर वही इंजेक्शन दूसरे मरीजों को लगाने से वे भी संक्रमित हो गए।
4-5 बच्चों में भी पाया गया एचआईवी पॉजिटिव
यह मामला जब आला अधिकारियों के संज्ञान में आया तो उन्होंने बांगरमऊ में जनवरी में अलग-अलग तीन स्वास्थ्य शिविर लगवाए। यहां 500 से ज्यादा लोगों की जांच में फिर 40 लोगों में एचआईवी के लक्षण मिले। जिनमें 20 लोगों में एचआईवी की पुष्टी हो चुकी है। जबकि बाकी के मरीज कानपुर के एआरटी सेंटर पर जांच करवा रहे हैं। उनमें चार-पांच बच्चे भी हैं।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here