33 C
Mumbai
Monday, November 28, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

खबर का असर – यूपी पुलिस के मुखिया करने पहुँचे, मेरठ जोन के अपराधों की समीक्षा, बढ़ते अपराध के ग्राफ की 3 फरबरी को पब्लिस की गयी थी खबर। —– ‘मानवाघिकार अभिव्यक्ति’

रिपोर्ट – पी के लोधी

आखिरकार उत्तर प्रदेश के पुलिस मुखिया मेरठ में करने पहुँचे, मेरठ जोन के अपराधों की समीक्षा, इसी बीच मुजफ्फरनगर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक बदमाश गोली लगने से घायल, सिपाही को भी लगी गोली।

आतंकी फ़ंडिंग के शक मे एनआइए की टीम ने छापी टैंक क्षेत्र मे दबिश देकर एक कारोबारी को उठाया। ३ फ़रवरी को मुज़फ़्फ़रनगर मे ज्वैलर्स के ठिकानों पर दी गई दबिश के बाद मिले थे मेरठ मे कनेक्शन। पूछताज मे मिला था लश्कर ए तैयबा आतंकी संगठन से कनेक्शन। इसी के बाद ही की गई मेरठ मे छापेमारी।

थानेदारों का बार-बार इधर-उधर तबादला ना हो –

उन्होंने कहा कि थाने में तैनात इंस्पेक्टर, एसओ का कार्यकाल लंबे समय का होना चाहिए। बार-बार इधर से उधर तबादला करने पर उनकी कार्य क्षमता प्रभावित होती है। उन्होंने पुलिसकर्मियों के गलती करने पर सजा से ज्यादा जवाबदेही तय करने की बात भी कही।

किसी तरह के दबाव में काम ना करें पुलिसकर्मी –

डीजीपी ने कहा कि पुलिसकर्मी किसी तरह के दबाव में काम ना करें जनता के बीच आ जाएं और उनकी समस्याएं निस्तारित करें। इससे जनता के बीच पुलिस की छवि बेहतर होगी। पुलिस को क्रिमिनल इंटेलिजेंस मजबूत बनाने, सनसनीखेज वारदातों का खुलासा करने, शिकायतों पर FIR दर्ज करने के निर्देश दिए।

कार्यालय का भी किया उद्धघाटन –

मेरठ।डीजीपी ने पुलिस के एक कार्यालय का भी उद्धघाटन किया। बता दें कि मेरठ में बढ़े अपराध के ग्राफ से पुलिस के अधिकारियों के हाथपैर फुले थे। हालांकि डीजीपी ने पुलिस अधिकारियों से जनता के बीच जाकर बेहतर संबंध स्थापित करने के टिप्स दिये हैं।

अंततः

काफी देर बाहर इंतज़ार कराने के बाद अंदर बैठक में बुलाया लव कुमार एसएसपी गौतमबुद्धनगर को।

 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here