25 C
Mumbai
Thursday, June 30, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

औरैया पत्रकार मारपीट कांड : अत्यंत निंदनीय । —– द्वारा – विशाल श्रीवास्वत

इटावा, औरैया जनपद में न्यूज चैनल के दो पत्रकारों के साथ वीभत्स तरीके से की गई मारपीट कांड की साजिश वहां के जिला पंचायत अध्यक्ष दीपू सिंह व चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह ने कथित तौर पर रची थी।दरअसल ये दोनों पत्रकार जिला पंचायत अध्यक्ष दीपू चौहान व चौकी इंचार्ज की माफियागिरी अवैध धन वसूली जैसे तमाम गोरखधंधों का खुलासा करने में लग गए थे।इसी वजह से दीपू चौहान की काली दुनिया मे हड़कम्प मच गया था।चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह मुलाजिम तो पुलिस का है लेकिन चपरासी दीपू चौहान का है।इसी चौकी इंचार्ज व जिला पंचायत अध्यक्ष की देखरेख में जालौन रोड पर एक अवैध वैरियर चल रहा है,जहां ओवरलोड ट्रको व अन्य वाहनों से गुंडा टेक्स वसूला जा रहा है।बस इसी खबर को कवर करने को लेकर दोनों पत्रकार जिला पंचायत अध्यक्ष दीपू चौहान व चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह की आंख की किरकिरी बन गए थे,एक नियोजित षड्यंत्र के तहत उस दिन रात को पुलिस की अवैध वसूली को लेकर एक फर्जी कॉल कर इन दोनों पत्रकारों को बुलवाया गया और उनकी पिटाई की गई।

सत्ता हो रही है बदनाम
जिला पंचायत अध्यक्ष दीपू सिंह व चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह जैसे ही लोगो के कारण सूबे की सत्ता व पुलिस महकमा एक साजिश के तहत बदनाम किया जा रहा है।दीपू चौहान जैसे तथा कथित सफेदपोश गुंडे व खाकी भेषधारी राघवेन्द्र सिंह जैसे लोग ही समाज की व्यवस्था में कलंक बन कर उभर रहे है।जिन्हें रोका जाना बेहद जरूरी है।ऐसे लोग समाज, भारतीय राजनीति ओर अपने महकमे के लिए कोढ़ है।ऐसे लोग अवैध दौलत कमाने के लिये अपना जमीर तक गिरवी रखने में कोई संकोच नही करते है।

आई जी जोन की जांच
जानकारी दी गयी हैं कि कानपुर प्रेस क्लब व औरैया प्रेस क्लब की पहल पर जब यह मामला आईजी कानपुर ज़ोन के संज्ञान में लाया गया तो वो इस मामले में गम्भीर हुए और मारपीट में घायल हुए पत्रकारों की डाक्टरी करवाई,साथ ही औरैया एसपी को मामले की जांच कर आरोपियों के गिरफ्तारी के कड़े आदेश भी दिए है।

अब बिलो में क्यो छिपे हैं दीपू चौहान के गुंडे
पत्रकारो की मारपीट का मामला अब सरकार समाज और सूबे के पत्रकारों के बीच बेहद चर्चा का विषय बन गया है।रात के समय दो निहत्थे पत्रकारों पर मर्दानगी दिखाने वाला जिला पंचायत अध्यक्ष व कथित तौर पर औरैया का सफेदपोश कथित गुंडा दीपू चौहान के वो तथा कथित गुंडे अब बिलो में क्यो छिपे है?अगर मर्द हो सड़को पर निकलो ओर अब पत्रकारों के विरोध का सामना करो।मैं जानता हूं कि गुंडो में कितनी हिम्मत ओर मर्दानगी होती है।जब जब सभ्य समाज गुंडो के खिलाफ एकजुट होता है तब तब गुंडो को उनकी औकात पर लाकर खड़ा कर देता है।

निंदनीय कार्य
औरैया जनपद में रात के अँधेरे में जिला पंचायत अध्यक्ष व सफेदपोश तथा कथित गुंडा दीपू चौहान व खाकी वर्दीधारी तथा कथित गुंडा राघवेंद्र सिंह के गुर्गों(जो अब बिलो में दुबके है)ने जो कृत्य रात के अंधेरे में दोनों पत्रकारों के साथ किया वो बेहद निंदनीय है।इटावा प्रेस क्लब व आल इंडिया रिपोर्टर एशोसिएशन इस कृत्य की निंदा करती है।और औरैया के पत्रकारों को यह विश्वास दिलाती है कि इस लड़ाई हम आपके साथ हैं।और यह लड़ाई तब तक जारी रहनी चाहिए जब तक मुख्य हमलावरों की गिरफ्तारी व आरोपी चौकी इंचार्ज का निलम्बन नही किया जाता है।न्याय की इस लडाई में इटावा के हम सभी पत्रकार धरना प्रदर्शन व भूखहड़ताल तक के लिये तैयार है।इंकलाब ज़िंदाबाद।

 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here