25 C
Mumbai
Thursday, June 30, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

सड़क हादसे में युवक की हुई मौत,माँ -बेटे पर मुकदमा दर्ज ।——–चैतन्य।

[ बाराबंकी। सोमवार की भोर दिनदहाड़े सिरफिरे युवक एव उसकी माँ द्वारा जलाकर मार डालने से आज भी गांव में सन्नाटा पसरा रहा तथा जिस घर मे आरोपी एव उसकी माँ रहती थीं सभी ताला बन्द कर फरार हो गये है।
उल्लेखनीय हो कि सोमवार को सफदरगंज थानाक्षेत्र के ग्राम चौखण्डी में दिल दहला देने वाली घटना उस समय घटित हुई जब अपने बाप की इकलौती बेटी तारावती गांव के ही उदयराज के छोटे पुत्रों को घर से 50 मीटर दूर भेजने गयी थी। वहाँ पहले से ही मौजूद बदोसराय थानाक्षेत्र के ग्राम बरौलिया निवासी अमित व उसकी माँ ने तारावती की पिटायी करते हुए मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी जिससे गम्भीर रुप से घायल नाबालिग लड़की की इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गयी थी। सूत्रों द्वारा पता चला है कि आरोपी अमित के बड़े भाई की ससुराल ग्राम चौखण्डी निवासी सन्तोष के यहाँ है तथा सन्तोष की पत्नी की मृत्यु के बाद अमित की माँ सन्तोष के साथ ही ग्राम चौखण्डी में रहती है तथा अमित का आना जाना लगा रहता है। बताया जाता है कि अमित एव तारावती का प्रेमप्रसंग चलता था और शादी करना चाहते थे। दो दिन पूर्व अमित ने तारावती पर शक करते हुए कहा कि तुम किसी अन्य लड़के से बात करते हो इसी पर दोनों के बीच वाद विवाद हुआ और सोमवार की भोर माँ बेटे ने मिलकर नाबालिग को मिट्टी का तेल कर आग के हवाले कर दिया जिसकी मौत हो गई।
■ गांव में ऐसी पहली घटना ■
गांववासियों ने बताया कि चौखण्डी गांव में इस तरह की पहली घटना है जिससे बच्चों से लेकर महिलाएं तक डरी व सहमी है। पूरे गांव में सन्नाटा पसरा है और सभी आरोपियों को कोस रहे हैं।

■ इकलौती थी बेटी ■
मृतक तारावती अपने माँ बाप की इकलौती पुत्री थी जिसकी माँ की पहले ही मौत हो चुकी थी ।मृतक के पिता केशवराम ही मां बाप दोनों की जिम्मेदारी सम्भालते थे बेटी की मौत के बाद से केशवराम बदहवास बेटी को याद करके रो रो बेसुध हो रहे है।

■ बाप की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज■
थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि मृतका के पिता केशवराम की तहरीर पर माँ बेटे पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है तथा दोनों आरोपी फरार है। दविश दी जा रही हैं।
[ (बाराबंकी)। हैदरगढ के सुबेहा तिराहे के निकट हुए एक सड़क हादसें में एक नवयुवक की घटना स्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी मृतक युवक स्टेंड बैंक शाखा पोखरा में चपरासी के पद पर कार्यरत था ।उसकी शादी अभी कुछ दिन पहलें ही हुई थी ।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक कोतवाली हैदरगढ क्षेत्र के पेचरुआ गांव निवासी सूरज कनौजिया उम्र 24 वर्ष प्रतिदिन की तरह वह आज सुबह करीब 9 बजें अपनी मोटरसाइकिल  सीडी डीलक्स से वह पोखरा नौकरी के लिए घर से निकला था। और टैक्सी स्टैंड सुबेहा तिराहा कस्बा हैदरगढ़ के निकट  पहुंचा ही था की पीछे से तेज रफ्तार आ रही प्रकाश इंटर कालेज की स्कूली बस यूपी 41 एटी 0797 नें मोटरसाइकिल में पीछे से जोरदार टक्कर मार दी जिससें सूरज की घटना स्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी घटना स्थल से भाग रहे गाड़ी सहित चालक कों राहगीरों नें पकड़कर पुलिस के हवाले किया ।

घटना स्थल पर पहुची पुलिस नें शव का पंचनामा भरकर पीएम के लिए जिला मुख्यालय भेजा  । सूरज की मौत की खबर जैसे परिजनों कों मिली घर में कोहराम मच गया सभी का रो -रोकर बुरा हाल है । मृतक सूरज तीन भाई व एक बहन है सूरज अपनें भाईयों में सबसे छोटा था उसकी अभी लगभग चार माह पहलें शादी हुई थी । और वह किसी तरह स्टेट बैंक पोखरा में चपरासी की  नौकरी कर जीवन यापन कर रहा था । लेनिक ईश्वर कों शायद कुछ और ही मंजूर था  शादी के बाद तमाम अरमानों कों  साथ लेकर ससुराल आयी नवनवेली दुल्हन के सभी अरमान इस दुखद घटना के बाद चूकना चूर हो गये । पति की मौत के बाद नव नवैली दुल्हन का रो – रोकर बहुत बुरा हाल है । माता – पिता के बुढ़ापे का सहारा के इस दुनिया के गुजर जाने के बाद उनका  भी रो -रोकर बुरा हाल ।  जब देर शाम पीएम के बाद जब शव घर पहुंचा तो घर में मातम छा गया  । और रोते बिलखते परिजनों कों देख वहाँ पर मौजूद लोगों की भी आंखों नम हो गयी  । मृतक सूरज के  पिता भूल्लू प्रसाद कनौजिया प्रकाश इंटर कालेज में बड़े बाबू के पद पर कार्यरत है और कुदरती देन तो देखों उसी विधालय की तेज रफ्तार स्कूली बस चालक की लापरवाही से उसका सहारा ही छीन लिया । फिरहाल इस दुखद घटना ने सभी कों झकझोर कर रख दिया ।लेकिन स्कूली बस  चालक हिरासत में होने के बावजूद भी पुलिस नें अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया है ।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here