28 C
Mumbai
Friday, February 3, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

1-तहसीलदार के आश्वासन पर धरना समाप्त।2–दंगल का हुआ आयोजन।3–गैर आबादी वाले ग्राम को किया ओडीएफ घोषित ।4—संस्कृत विद्दवान हुए सम्मानित।—————–C.N.upadhyay

1—तहसीलदार ने 15 दिन मे जांच एवं कार्यवाही का दिया आश्वासन ग्रामीणो का अनशन समाप्त । बाराबंकी —विकास खण्ड रामनगर के अंतर्गत ग्राम पंचायत किन्हौली मे मानक विहीन शौचालय बनवाये जाने के कारण ग्राम वासी हवलदार रावत की अध्यक्षता मे बिंदौरा चौराहे पर जारी धरना एंव प्रदर्शन तहसीलदार सुरेश राय के आश्वासन के बाद समाप्त हो गया।मालूम हो कि ग्राम पंचायत किन्हौली मे मानक विहीन शौचालयो का निर्माण कार्य चल रहा था।आरोपो के तहत जिलाधिकारी उदयभानु त्रिपाठी से मिलकर ग्रामीणो ने जाँच एंव कार्यवाही की माँग की थी।लेकिन कोई जाँच न होती देख हवलदार रावत के नेतृत्व मे गाँवबासी बिन्दौरा चौराहे पर धरना प्रदर्शन कर रहे थे।जिसके मद्देनजर तहसील दार सुरेश राय ने धरना स्थल पर पहुंच कर हवलदार रावत तथा उपस्थित ग्रामीणों को शौचालय निर्माण मे की गई अनियमितता की 15 दिन मे जांच कराकर दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने के आश्वासन पर ग्रामीणों का धरना एंव प्रदर्शन समाप्त हो गया।

2—अखिल भारतीय विराट कुश्ती दंगल का हुआ आयोजन।
बाराबंकी– तहसील क्षेत्र के ग्राम जगदीशपुर मे अखिल भारतीय विराट कुश्ती दगंल का उदघाटन मुख्य अतिथि दुल्हदेपुर कुटी के महन्त बाबा बलराम दास ने पहलवानों के हाथ मिलवा कर किया । दो दिवसीय कुश्ती दगंल कार्यक्रम मे नेपाल राजस्थान दिल्ली लखनऊ मेरठ आदि स्थानो से दो दर्जन से अधिक पहलवानों के साथ साथ आसपास के जनपदो के बडे पहलवान अपनी कुश्ती का जौहर दिखाने आये है ।दगंल मे महिला पहलवान भी अपनी कुश्ती का प्रदर्शन करने आयीं है ।
शनिवार को हुयी कुश्तियो मे पहली कुश्ती बसन्त थापा पहलवान नेपाल व हलचल पहलवान राजस्थान के मध्य हुयी जिसमे बसन्त थापा पहलवान विजेता रहे ।जावेद पहलवान कलियर शरीफ व मोनू हरियाणा के मध्य हुयी कुश्ती मे जावेद ने मोनू को पटखनी दिया ।विजय पहलवान मेरठ व उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान राज बहादुर के मध्य हुयी कुश्ती मे राजबहादुर ने बाजी मारी ।बाबा गुरूचरन पहलवान दुल्हदेपुर कुटी व परवीन पहलवान दिल्ली के मध्य हुयी बडी कुश्ती मे बाबा गुरूचरन ने प्रवीन को पटखनी दिया ।जब कि सर्वेश तिवारी दिल्ली तथा मोहम्मद परवेज पहलवान कलियर शरीफ की कुश्ती बराबर रही ।पारस नाथ थापा नेपाल व राधाकिशन के डी सिंह स्टेडियम के मध्य हुयी कुश्ती बराबर रही जिनको कल अपने अपने दांव का जौहर 13 जनवरी को दिखाने का एलाउन्स मेंट किया गया ।दंगल मे आयी महिला पहलवानो पर 11 हजार का इनाम घोषित किया गया है ।कार्यक्रम के आयोजक मोहम्मद अहमद व कलाम प्रधान किठूरी द्वारा करवाये जा रहे कुश्ती दंगल मे कालू पहलवान व गुरूचरन बाबा रैफरी है । संचालन संदीप पहलवान द्वारा किया जा रहा है बयोबृद्व पहलवान शिवकुमार सिंह मास्टर चन्द्रिका प्रसाद आकाश सिंह रामपाल रावत विन्द्रा प्रसाद पूर्व प्रधान सहित दस हजार से अधिक ग्रामीणो ने कुश्ती का आनन्द उठाया ।

3–गैर आबादी वाला ग्राम ओडीएफ घोषित बोर्ड देखकर राहगीर ढूंढ़ रहे आबादी।
बाराबंकी– विकासखंड के गैरआबाद ग्राम मीठेपुर को भी खुले से शौच मुक्त कर दिया गया है वहां पर लगा स्वच्छता का बोर्ड तो यही दर्शाता है।
जिले का स्वच्छता विभाग किस कदर क्षेत्र में स्वच्छता के कार्य का प्रचार प्रसार कर रहा है कि बदोसराय से सिरौलीगौसपुर जाने वाले सड़क मार्ग के किनारे विद्युत उपकेंद्र के बगल लगे स्वच्छता के बोर्ड तो यही दर्शाया गया है कि ग्राम मीठेपुर जो गैर आबादी है जहां एक भी घर नहीं है फिर भी वह पूर्ण रूप से खुले से शौच मुक्त हो गया है ।इसमें साफ लिखा है कि किसी भी व्यक्ति को खुले में शौच जाना मना है इस संबंध में एडीओ पंचायत राजेंद्र प्रसाद वर्मा ने बताया कि मेरी जानकारी में नहीं है यह बोर्ड जिले के द्वारा लगवाए जा रहे हैं।

4–प्रोफेसर एवम् संस्कृत के विद्दवान डॉक्टर मनोज उपाध्याय हुए सम्मानित।
बाराबंकी–मातृभाषा संस्कृत के प्रचार प्रसार को बढ़ावा देने को कृत संकल्प एवं क्षेत्र में संस्कार की अलख जगा रहे प्रोफेसर एवं संस्कृत के विद्वान डॉक्टर मनोज उपाध्याय को सदर एस डीएम अजय कुमार द्विवेदी द्वारा सम्मानित किया गया।इस अवसर पर उप जिलाधिकारीअजय कुमार द्विवेदी ने कहा की शिक्षा तो बढ रही है पर संस्कारों का पतन हो रहा है ऐसे मे एक मात्र संस्कृत ही भाषा है जो संस्कारों के द्वारा सम्पूर्ण विश्व को एक सूत्र मे पिरोने का काम कर सकती है तथा भारत की आत्मा है संस्कृत।वहीं प्रोफेसर मनोज उपाध्याय ने बतलाया वह शिक्षा अधूरी है जिसमें संस्कार नहीं है वह बड़े दुख की बात है कि हम अपनी मातृभाषा संस्कृत को छोड़ कर पाश्चात्य सभ्यता और संस्कृति को अपना रहे हैं उन्होंने कहा कि यह ठीक है कि हम कंप्यूटर युग में जी कर भी हमें अपनी संस्कृति एवं सभ्यता को नहीं भूलना चाहिए

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here