28 C
Mumbai
Tuesday, September 27, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

पाकिस्‍तान ने रद्द की समझौता एक्सप्रेस।

सौ. न्यूज / फाईल चित्र

रिपोर्ट – रवि निगम / विपिन निगम

नई दिल्ली  : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और राज्य के पुनर्गठन से बौखलाए पाकिस्तान ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए गुरुवार को समझौता एक्सप्रेस को वाघा बॉर्डर पर रोक दिया। इसके बाद भारतीय चालक दल और गार्ड ट्रेन को लेकर अटारी आए।

आज करीब 110 यात्री पाकिस्तान से भारत आए हैं। एक दिन पहले ही इस्लामाबाद ने नई दिल्ली के साथ कूटनीतिक संबंधों का दर्जा कमकर दिया है। पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद अहमद ने इस्लामाबाद में मीडिया से कहा कि पाकिस्तान ने भारत के साथ समझौता एक्सप्रेस सेवा को रोक दिया है।

नॉर्दन रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने कहा, ‘ट्रेन को कैंसल नहीं किया गया है, यह दौड़ेगी। पाकिस्तानी पक्ष ने चालक दल और गार्ड की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की है। हमने उन्हें बताया है कि इस तरफ स्थिति सामान्य है।’ उन्होंने कहा, ‘हमारे इंजन के साथ चालक दल और गार्ड ट्रेन को लेकर अटारी आए हैं।

भारतीय सीमा में 70 यात्री पाकिस्तान जाने की प्रतीक्षा में हैं। प्रक्रिया के बारे में बताते हुए कुमार ने का कि लाहौर और दिल्ली से समझौता एक्सप्रेस अटारी आती है। आटारी सीमा पर लाहौर से आने वाले यात्री दिल्ली वाली ट्रेन में बैठते हैं और पाकिस्तान जा रहे यात्री लाहौर वाली ट्रेन में बैठते हैं। यह ट्रेन वाघा होते हुए लाहौर जाती है।

गुरुवार को लाहौर से आने वाली समझौता एक्सप्रेस अटारी नहीं पहुंची और यह पाकिस्तान सीमा में वाघा पर रुक गई। पाकिस्तान के रेल मंत्री राशिद ने मीडिया से कहा, ‘हमने समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा को निलंबित करने का निर्णय किया है। जबतक मैं रेल मंत्री रहूंगा, समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा नहीं चलेगी।’ मंत्री ने कहा कि समझौता के उन डिब्बों का इस्तेमाल ईद के मौके पर यात्रियों की आवाजाही के लिए किया जाएगा। 

भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के बाद इस साल की शुरुआत में समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा निलंबित कर दी गई थी। हालांकि, बाद में इस सेवा को दोबारा बहाल कर दिया गया। समझौता एक्सप्रेस में छह शयनयान डिब्बे और एक एसी 3-टियर का डिब्बा है। शिमला समझौते के तहत इस ट्रेन सेवा की शुरूआत 22 जुलाई 1976 को की गई थी। 

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here