29 C
Mumbai
Thursday, September 29, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

यूपी: योगी सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार: 17 नए चेहरे लेंगे शपथ

रिपोर्ट-विपिन निगम

न्यूज़ डेस्क (यूपी) लखनऊ: योगी सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार आज यानी बुधवार को 11 बजे लखनऊ के राजभवन में होगा. मानवाधिकार अभिव्यक्ति को मिली जानकारी के अनुसार इस इन्हें मंत्रिमंडल विस्तार में 17 नए चेहरे शामिल होंगे, इन्हें जबकि करीब पांच स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्रियों का प्रमोशन होगा. इसके अलावा दो राज्य मंत्रियों को स्वतंत्र प्रभार मिल सकता है. यानी योगी कैबिनेट में कुल 23 से 24 मंत्री आज शपथ ले सकते हैं. नए मंत्रियों की लिस्ट राजभवन भेजी जा चुकी है. इतना ही नहीं करीब 10 मंत्रियों के विभाग भी बदले जाएंगे, जिनमें डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी शामिल है.

इन्हें मिलेगा मौका

आज लेने वाले संभावित मंत्रियों की लिस्ट में श्रीराम चौहान, नीलिमा कटियार, आनंद शुक्ला, अशोक कटियार, सतीश चंद्र द्विवेदी, चन्द्रिका उपाध्याय, जीएस धर्मेश, महेश चंद्र गुप्ता, विजय कश्यप, विनय शाक्य, रामनरेश अग्निहोत्री, चौधरी उदयभान, दलबहादुर कोरी, कपिल देव अग्रवाल, राम शंकर पटेल और रवीन्द्र जायसवाल और अपना दल के आशीष पटेल का नाम शामिल है.

इन्हें मिल सकता है प्रमोशन

इसके अलावा करीब चार स्वतंत्र प्रभार मंत्रियों को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा. इनमें प्रमुख नाम ग्राम्य विकास मंत्री डॉ महेंद्र सिंह, पंचायती राज मंत्री चौदरी भूपेंद्र सिंह, गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा, होमगार्ड व पिछड़ा कल्याण मंत्री अनिर राजभर और परती व भूमि विकास मंत्री उपेंद्र तिवारी का नाम शामिल है. इसके अलावा सूचना राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी और नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश यादव को स्वतंत्र प्रभार मिल सकता है. इन सभी को उनके बेहतर प्रदर्शन की वजह से प्रमोशन मिलेगा.

10 मंत्रियों के बदले जा सकते हैं विभाग

यही नहीं करीब 10 मंत्रियों के विभाग को बदले जाने की सूचना है. इनमें स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह समेत कई मंत्रियों के विभाग बदले जा सकते हैं. इसके अलावा ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा केशव प्रसाद मौर्य सुरेश राणा सतीश महाना समेत अन्य मंत्रियों के विभाग में भी फेरबदल संभव है.

विस्तार से पहले इनका हुआ इस्तीफा

हालांकि योगी सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कई मंत्रियों ने इस्तीफा भी दे दिया. वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने उम्र का हवाला देते हुए इस्तीफा दिया तो वहीं बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल को ख़राब प्रदर्शन की वजह से इस्तीफा देना पड़ा. इन दोनों के अलावा खनन मंत्री अर्चना पांडेय और सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह को भी इस्तीफा देना पड़ा है. इससे पहले परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं. सभी का इस्तीफा मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है.

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here