29 C
Mumbai
Thursday, December 8, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

बाढ़ राहत कैंपों में पहुंचे अरविंद केजरीवाल, मौका स्थित का लिया ज़ायजा।

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को उस्मानपुर इलाके में बाढ़ प्रभावित लोगों से मुलाकात कर हालात का जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावितों से कहा कि घबराएं नहीं, अगर कोई कमी पड़ी तो सरकार राहत सामग्री उपलब्ध कराएगी।

यमुना नदी के निचले इलाकों के डूबने के बाद नदी के मैदानी हिस्से में रह रहे 15,000 से अधिक लोगों को विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा लगाए शिविरों में भेज दिया गया है।

यमुना बुधवार को भी खतरे के निशान से काफी ऊपर बह रही है। हालांकि, दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने कहा कि जल का स्तर कई घंटों से 206.60 मीटर पर स्थिर है और इसके कम होने की संभावना है। केजरीवाल ने उस्मानपुर इलाके में लगाए शिविरों में रह रहे लोगों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ”यमुना किनारे बाढ़ से प्रभावित लोगों से मिला। ज्यादातर लोग अपने घरों में अपना सामान छोड़ आए है, लेकिन अच्छी बात यह है कि जान का कोई नुकसान नहीं हुआ। शिविरों, भोजन, पानी और दवाओं का बंदोबस्त कर लिया गया है। अगर कोई कमी हो तो हमें बताएं, हम फौरन आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी और पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल समेत भाजपा के कई नेताओं ने भी प्रभावित लोगों से मुलाकात की और उन्हें मदद दी। गोयल ने आरोप लगाया कि उनके दौरे के दौरान लोगों ने उस्मान खादर इलाके में शिविरों, शौचालयों और भोजन की अनुपलब्धता की शिकायत की। हालांकि, दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि राहत शिविरों में रह रहे लोग सरकार के प्रयासों की सराहना कर रहे हैं।

गहलोत ने ट्वीट किया, ”राहत शिविरों में रह रहे लोग दिल्ली सरकार की कोशिशों की सराहना कर रहे हैं। भोजन, पानी और अन्य आवश्यक राहत सामग्री मुहैया कराई जा रही है। राजस्व विभाग के अधिकारी अन्य विभागों के समन्वय से चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं।”

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here