28 C
Mumbai
Tuesday, September 27, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

कोरोना – आकडों का खेल कर जनता के साथ धोका नहीं ? टेस्टिंग 15 लाख की जगह 10 लाख 76 हजार के नीचे उतरी ??

-रवि जी. निगम

सामाजिक कार्यकर्ता / संपादक

आपकी अभिव्यक्ति – क्या हम वापस वही गलती नहीं दोहरा रहे हैं, क्या सत्ता की लोलुप्ता में हाड-मांस के गरीब मुफलिसी के मारे इंसानों की जिंदगी के साथ खिलवाड करने पर उतारू हैं ? क्योंकर जो हम गलती कर चुके हैं उसकी पुनर:वृत्ति कर रहे हैं जब कोरोना का पहला मामला 30 जनवरी को देश में सामने आया था तब भी हमने लापरवाही बर्ती विरोधी जब मास्क लगाकर सदन में पहुंचे जो हुआ देश ने देखा, और इतना ही नहीं जब विरोधी राज्य सरकारों ने लॉकडाउन की घोषणा की तो क्या नहीं कहा गया, उसे भी जनता ने भी सुना, और जनता ने जनता कर्फ्यू और अचानक लागू किया गया लॉकडाउन भी देखा, घण्टा,शंख, मंजीरा भी बजाये, अगरबत्ती दिया बत्ती के साथ हम भी मॉर्डन हैं कि तर्ज पे मोबाईल टॉर्च भी जलाई, अब बस प्रभू बस अब और नहीं…. जनता ने घर बैठकर आपके वादों की अपनी सैलरी भी खूब उठाई, पांच किलो के लिये लाईन भी लगाई, तौबा-तौबा राम दुहाई..!!

क्या ये उचित वक्त नहीं है जब हम कोरोना को पूरी तरह अपने कब्जे में ले सकते हैं, यदि हम दिन-प्रतिदिन इसकी टेस्टिंग की संख्या में इजाफ़ा (वृद्धि) करते चले जायें तो वो दिन दूर नहीं जब कोरोना देश छोड्कर जानें पर मजबूर हो जाता, क्या ये वो सही समय नहीं है जब इस पर करारा वार किया जा सकता है, लेकिन हुजूर को तो बिहार चुनाव दिख रहा है, यदि टेस्टिंग बढेंगी तो स्वाभाविक है संक्रमितों की संख्या भी बढेगी, लेकिन सरकार ये भूल जाती है जितना ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग होगी उतने ही तेजी के साथ इस पर नियंत्रण भी पाये जा सकने में मदद मिलेगी, और मौत के आकडे पर भी नियंत्रण भी पाया जा सकेगा, क्योंकि जब हम समय रहते ही इस पर ट्रीट्मेंट (उपचार) शुरू कर देंगे तो यकीनन होने वाले मौंत की संख्या पर भी नियंत्रण पाया जा सकेगा, और देश के नागरिकों की जिंदगियां बचाई जा सकेगी, लेनिक हुज़ूर तो ठहरे हुज़ूर बोले तो “खाता न वही, जो…..कहें वही सही” दद्दा जनता पर तरस खाओ अपनी जिद्द मत चलाओ… क्योंकि कहते हैं जो आज है वो कल नहीं रहेगा….!!

-मानवाधिकार अभिव्यक्ति

नई दिल्ली : भारत में कोरोना के नए मामलों में लगातार कमी जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना संक्रमण के 55,342 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, इसी अवधि में 706 लोगों की मौत हुई है।

दो महीने बाद पहली बार
पिछले करीब दो महीनों में ये पहली बार है जब कोरोना के एक दिन में 55 हजार के करीब नए केस दर्ज हुए हैं। वहीं, ये लगातार दूसरा दिन है जब 70 हजार से कम नए मामले सामने आए हैं।इससे पहले आखरी बार 17 अगस्त को 60 हज़ार से कम केस दर्ज हुए थे|

संक्रमितों की संख्या 71,75,881
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी अपडेट के अनुसार भारत में अब कुल संक्रमितों की संख्या 71,75,881 हो गई है। इसमें एक्टिव मरीज 8,38,729 हैं। वहीं, 62,27,296 लोग अब तक बीमारी से ठीक हो चुके हैं। देश में अब तक कोरोना से कुल 1,09,856 लोगों की मौत हुई है।

8,89,45,107 सैंपल की जांच
इस बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के अनुसार अब तक देश में कोरोना के लिए 8,89,45,107 सैंपल की जांच हुई है। ये आंकड़े 12 अक्टूबर तक के हैं। इसमें कल यानी 12 तारीख को 10,73,014 सैंपल की जांच की गई।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here