28 C
Mumbai
Thursday, September 29, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

लक्ष्य – जो सरकार महिलाओं को सुरक्षा न दे सके, उस सरकार से क्या उम्मीद ?

बाराबंकी : लक्ष्य की टीम ने बाराबंकी के गांव पिपरी मजरा सेठमऊ का दौरा किया जहाँ 14 अक्टूबर को बहुजन समाज की एक लड़की के साथ गैंगरेप करके उसकी निर्मम हत्या कर दी गई थी | लक्ष्य टीम ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर घटना की जानकारी हासिल की तथा लक्ष्य संगठन की ओर से पीड़ित परिवार को पांच हजार रुपए का आर्थिक सहयोग भी दिया |

लक्ष्य कमांडरों ने प्रदेश में बहुजन समाज की बहन बेटियों के साथ हो रहे अत्याचारों पर दुःख प्रकट करते हुए कहा कि जो सरकार महिलाओं को सुरक्षा नहीं दे सकती, उस सरकार से क्या उम्मीद की जा सकती है ऐसा लगता है कि प्रदेश में शासन व प्रशासन जैसी कोई चीज है ही नहीं | उन्होंने कहा कि इन घटनाओं को लेकर बहुजन समाज में सरकार के प्रति आक्रोश है और लोगों का सरकार पर से विश्वास उठता जा रहा है, सरकार को तुरंत कड़े कदम उठाने चाहिए |

लक्ष्य कमांडरों ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि वो अपनी कमियों को छुपाने की बजाये प्रदेश में कानून व्यवस्था को मजबूत करें और ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए उन पर तुरंत कार्यवाही करे ताकि इस प्रकार की अमानवीय घटनाओं पर लगाम लग सके | उन्होंने कहा कि इस घटना के दोषियों को जल्द से जल्द कड़ी सजा दी जाये और पीड़ित परिवार को आर्थिक सहयोग भी दिया जाये |

लक्ष्य कमांडरों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार बहुजन समाज की बहन बेटियों की सुरक्षा के प्रति ऐसे ही उदासीन रहती है तो उनको मजबूरन एक बड़ा आंदोलन लखनऊ में करना पड़ेगा |

लक्ष्य की इस टीम में लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या, संघमित्रा गौतम, देवकी बौद्ध, बबिता सेन, राजेश्वरी गौतम, कमला गौतम, शैलेन्द्र राजवंशी, विनय प्रेम, एड. सुरेश गौतम, एड. परमहंस गौतम, चंद्रशेखर, आर डी राव, लाल बहादुर, श्रवण कुमार, एड. अमित गौतम, सुभाष चंद्र गौतम, रवि गौतम, मनीष गौतम, विक्रम सिद्धार्थ, पवन गौतम व रंजीत गौतम शामिल रहे |

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here