श्रीनगर : नेशलन कांफ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष एवं श्रीनगर से सांसद फारूक अब्दुल्ला को हजरतबल दरगाह में जुमे की नमाज अदा करने से कथित ताैर पर रोका गया।

नेकां ने की निंदा
नेकां के प्रवक्ता ने प्रशासन की इस कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के विशेष अवसर पर नमाज अदा करने से रोकना मौलिक अधिकार का उल्लंघन है।

प्रशासन ने रास्ते को बंद कर दिया
प्रवक्ता ने कहा कि प्रशासन ने शुक्रवार सुबह से डॉ़ अब्दुल्ला के गुपकर आवास के रास्ते को बंद कर दिया और उन्हें हजरतबल दरगाह जाने से रोका गया। नेकां अध्यक्ष आज दरगाह में जुमे की नमाज अदा करने जाने वाले थे।

मौलिक अधिकार का उल्लंघन
उन्होंने कहा,” ईद-ए-मिलाद-उन-नबी के विशेष अवसर पर नमाज अदा करने के लिए नहीं जाने देने पर नेशनल कांफ्रेस इसे मौलिक अधिकार का उल्लंघन मानता है और इसकी घोर निंदा करता है।