Manvadhikar Abhivyakti News
google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0

बेटी के इलाज के लिए चला रही माँ ईं-रिक्शा, होमगार्ड ने की बदसलूकी

google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0
google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0

हाइलाइट्स:

  • बेटी के इलाज के लिए आगरा की सड़कों पर चला रही थी ई-रिक्शा, होम गार्ड ने की बदसलूकी
  • आरोप है कि सूजा मारकर उसका रिक्शा पंचर कर दिया और रिक्शे में डंडे मारकर उसे खदेड़ने की कोशिश की
  • महिला चालक को बचाने आई उसकी 10 साल की बेटी के भी मार दिए थप्पड़
महिला ई-रिक्शा चालक के साथ बदसलूकी


आगरा(यूपी) बेटी के इलाज के लिए आगरा की सड़कों पर पांच साल से चला रही महिला से शनिवार को एक होमगार्ड ने मारपीट की। इससे पहले सूजा मारकर उसका रिक्शा पंचर कर दिया और रिक्शे में डंडे मारकर उसे खदेड़ने की कोशिश की। इतना ही नहीं, महिला चालक को बचाने आई उसकी 10 साल की बेटी के भी थप्पड़ मार दिए। लोगों की भीड़ जुटने पर होमगार्ड वहां से भाग गया। पीड़िता ने थाना न्यू आगरा में लिखित शिकायत की है। एएसपी का कहना है कि आरोपी होमगार्ड के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0

सिकंदरा निवासी महिला ई-रिक्शा चालक सरिता उपाध्याय ने बताया कि उसकी सात साल की बेटी गायत्री के दिल में छेद है। इलाज में काफी खर्च हो रहा था। इससे परिवार की आर्थिक स्थिति खराब हो गई। बेटी का इलाज कराने के लिए उन्होंने खुद ही ई-रिक्शा चलाना शुरू कर दिया। इसके बावजूद चौराहे पर आए दिन पुलिसकर्मी परेशान करते हैं। आगरा में वह अकेली महिला थी, जिसे जो ई-रिक्शा चलाने की परमिशन मिली थी। उसने कभी नियमों का उल्लंघन नहीं किया।
आगेसरिता उपाध्याय ने बताया कि उनके पास ई-रिक्शा चलाने का एसएसपी और जिलाधिकारी की ओर से जारी अनुमति पत्र है। वह एमजी रोड पर भी ई-रिक्शा चला सकती हैं। शनिवार को साढ़े 10 बजे वह ई-रिक्शा लेकर भगवान टॉकीज चौराहे पर आई थीं तभी होमगार्ड विष्णु आ गया। वह आगे रिक्शा खड़ा करने की कहने लगा। इस पर वह कुछ दूर चली गईं। इस पर भी होमगार्ड आ गया। वहां भी मना करने लगा और उसके रिक्शे में डंडे मारने शुरू कर दिए। बाद में सूजा निकाल लिया। आरोप है कि सूजा मारकर रिक्शे के दो पहिये पंचर कर दिए। इस पर सरिता ने विरोध किया। मगर, होमगार्ड नहीं माना। वह अभद्रता करने लगा और उसके कई थप्पड़ जड़ दिए।

google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0

होमगार्ड कमांडेंट को लिखा पत्र
आरोप है उनके चीखने पर रिक्शे में बैठी दस साल की बेटी वैष्णवी आ गई। उसने भी रोकने का प्रयास किया, लेकिन होमगार्ड ने उसे भी पीटा। हंगामा होने पर लोगों की भीड़ लग गई इस पर होमगार्ड वहां से भाग गया। इस घटना से बुरी तरह आहत पीड़िता ने थाना न्यू आगरा में लिखित शिकायत की है। सीओ हरीपर्वत सौरभ दीक्षित ने बताया कि महिला से मारपीट और रिक्शे को सूजा मारकर पंक्चर करने की शिकायत मिली थी। प्रथम दृष्टया शिकायत सही मिली। इस पर होमगार्ड को ड्यूटी से हटाने और विभागीय कार्रवाई के लिए होमगार्ड कमांडेंट को पत्र लिखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

google.com, pub-2846578561274269, DIRECT, f08c47fec0942fa0