नई दिल्ली : बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आने लगे हैं. दोपहर 12 बजे तक के रुझानों में एनडीए (NDA Early Trends) को अच्छी बढ़त मिलती दिख रही है. हालांकि, बिहार में एक बार फिर मुख्यमंत्री बनने का नीतीश कुमार का सपना इस बार पूरी तरह से उनकी सहयोगी पार्टी बीजेपी के भरोसे पर रह गया है. दोपहर 2 बजे तक के रुझानों के मुताबिक, बीजेपी को बिहार में सबसे ज्यादा सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं.

नितीश की परफॉरमेंस ख़राब
खुद नीतीश कुमार की परफॉर्मेंस अपेक्षा के मुताबिक खराब रही है और पहली बार ऐसा हो रहा है कि वो पीएम मोदी की पार्टी के साथ गठबंधन के जूनियर पार्टनर बनते दिख रहे हैं. हालांकि, नीतीश कुमार के करीबी नेताओं का कहना है कि ‘ब्रांड नीतीश’ अभी धूमिल नहीं पड़ा है, लेकिन उनका यह मानना है कि इस बार एंटी-इन्कंबेंसी नीतीश का खेल बिगाड़ सकती है.

विजयवर्गीय का बयान
NDTV के मुताबिक बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि ‘मोदीजी की छवि ने हमें इस चुनाव में आगे बढ़ाया है. हम शाम तक सरकार गठन और नेतृत्व पर फैसला लेंगे.’उनके इस बयान से ऐसा प्रतीत होता है कि बीजेपी राज्य में मुख्यमंत्री के नए चेहरे पर विचार कर सकती है. जब उनसे इस इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि चुनावी रुझान के हिसाब से नतीजे आते हैं तो बीजेपी नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाने के ‘वादे को निभाएगी’.