रोडवेज बस में चढ़ने के लिए बिना मास्क लगाए धक्का मुक्की करती सवारियां।

रोडवेज बस में चढ़ने के लिए बिना मास्क लगाए धक्का मुक्की करती सवारियां। – फोटो-

कन्नौज (यूपी) दीपावली पर घर आए लोग अब दिल्ली जाने को लेकर असमंजस में हैं। इसकी मुख्य वजह दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर फिर से लॉकडाउन की चर्चा है। वहीं दिल्ली से आने वाली बसें बड़ी संख्या में सवारियां लेकर आ रही हैं। महकमा बसों को सैनिटाइज नहीं करा रहा है। सवारियां न मास्क लगा रहीं और न ही सामाजिक दूरी का पालन कर रही हैं।

दिल्ली में दीपावली के बाद हालात खराब हो गए हैं। इससे छुट्टी लेकर घर आए लोग लौटने से डर रहे हैं। दिल्ली में फिर से लॉकडाउन लगने की खबर से लोग भयभीत भी हैं। इससे यह लौटने का मन नहीं बना पा रहे हैं। इन्हें लग रहा है कि अगर दिल्ली में लॉकडाउन लग गया तो वह मुसीबत से फंस जाएंगे। इससे यह दिल्ली जाने से बच रहे हैं। 
वहीं सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक राजेश कुमार का कहना है कि बस स्टाप पर एक टीम लगी हुई है। वह तापमान की जांच करती है। निर्देश हैं कि सभी यात्रियों की जांच की जाए। इस समय भीड़ के चलते थोड़ी दिक्कत हो रही है। 
दिल्ली से रोज आ रहीं 22 बसें
सामान्य दिनों में दिल्ली से 10 से 15 बसें अप-डाउन करती हैं। दीपावली की वजह से कन्नौज समेत अन्य जगहों से दिल्ली के लिए अतिरिक्ति बसें चलाई गई थीं। इस समय 22 बसें अप-डाउन कर रही हैं। इन बसों में पैर रखने की जगह नहीं है। इनमें जाने की अपेक्षा लौटने वाले लोगों की संख्या अधिक है।
बस स्टाप पर पुख्ता इंतजाम नहीं
कोरोना के चलते दिल्ली की बिगड़ती स्थिति और जिले में दिल्ली की बसों की आमद से दहशत का माहौल है। जिला प्रशासन इसे लेकर अभी संजीदा नहीं हुआ है। स्टाप पर थर्मल स्क्रीनिंग के लिए दो लोग बैठाए गए हैं। इनके पास कोई पहुंचता, तभी तापमान नापा जाता है। इसके इतर बस से आने और बस में जाने वालों की थर्मल स्क्रीनिंग नहीं हो रही है।