ठंड से एक और अन्नदाता की गयी जांन, किसानों के लिए बुरी खबर !

नई दिल्ली : दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर से नए साल के पहले दिन किसानों के लिए बुरी खबर आई. केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर धरने पर बैठे किसानों के आंदोलन का आज 37वां दिन हैं. यहां ठंड के चलते एक 57 साल के किसान गलतान सिंह की मौत हो गई. गलतान सिंह यूपी के बागपत जिले के नांगल भावनपुर गांव के रहने वाले थे. भारतीय किसान यूनियन के शमशेर राणा ने ये जानकारी दी।

दिल्ली में कड़ाके की सर्दी है

दिल्ली में नववर्ष के मौके पर भीषण शीत लहर के कहर और तापमान के 1.1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचने के बाद भी दिल्ली से लगी सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है. सरकार और किसान संगठनों के बीच बुधवार को हुई छठे दौर की वार्ता में बिजली संशोधन विधेयक 2020 और एनसीआर एवं इससे सटे इलाकों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग के संबंध में जारी अध्यादेश संबंधी आशंकाओं को दूर करने को लेकर सहमति बनी थी.

फिर चर्चा चार जनवरी को 

प्रदर्शन कर रहे किसानों के 41 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक के बाद केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा था कि चार विषयों में से दो मुद्दों पर पारस्परिक सहमति के बाद 50 प्रतिशत समाधान हो गया है और शेष दो मुद्दों पर चार जनवरी को चर्चा होगी. हाड़ कंपाने वाली ठंड में पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों के किसान दिल्ली से लगी सीमाओं पर पिछले एक महीने से केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।