आपकी अभिव्यक्ति

Ravi Nigam , रवि जी. निगम ( संपादक/समाज सेवक )
Ravi G. Nigam  रवि जी. निगम ( संपादक /समाज सेवक )

एक विचार – पालघर मुद्दे पर और राजस्थान में हुई पुजारी की हत्या पर बडे-बडे पैरोकार चैनलों पर चीखते-चिल्लाते नज़र आये वहीं देश की निर्भीक और निडर मीडिया हाऊस निष्पक्षता के साथ के इस विषय पर क्यों नहीं चर्चा करते ? क्योंकि निष्पक्ष शब्द उनकी शब्दावली (डिक्शनरी) में है ही नहीं ? क्योंकर ऐसे पैरोकारों से सवाल नहीं पूँछते ? क्या निष्पक्षता से डर लगता है उन्हे ? क्या ये पैरोकार समाज और संविधान में सर्वोपरि हैं ? क्योंकर सरकारें इस पर विचार नहीं करती हैं ? इसे हमें समझने की सख्त जरूरत है कि नहीं इस पर भी हमें विचार अवश्य करना चाहिये नहीं ? अब इस पर मंथन करने की सख्त जरूरत है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस ने बंदायू जिले में एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद उसकी हत्या के मामले में फरार मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण को बृहस्पतिवार देर रात गिरफ्तार कर लिया। उस पर 50,000 रुपये का इनाम था।

जिलाधिकारी प्रशांत कुमार ने बताया कि गुरुवार आधी रात को महंत सत्यनारायण को उघाती पुलिस इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

अभी डाउनलोड करें! 👇👇👇
https://sharechat.onelink.me/3i9Y/37706d64

मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने एसटीएफ को आदेश दिया था। जिला पुलिस के साथ एसटीएफ को भी मामले की जांच के आदेश दिए गए थे। आरोपियों पर एनएसए के अंतर्गत कार्रवाई करने के आदेश दिए गए थे। इस मामले के मुख्य आरोपी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था।

HOW TO EARN MONEY FOR BLOGGING.

पुलिस सूत्रों के अनुसार तीन जनवरी की शाम महिला मंदिर में पूजा अर्चना करने गयी थी जहां उसके साथ मंदिर के मंहत समेत तीन लोगों ने बलात्कार किया और बाद में उसकी हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार महिला के सीने और पांव में भारी वस्तु से प्रहार किये गये जबकि उसके गुप्तांग में चोट पहुंचायी गयी।परिजनों ने मंदिर के महंत पर बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया है। महिला के पुत्र के मुताबिक तीन जनवरी की रात तकरीबन 11 बजे मंदिर का महंत अन्य दो लोगों के साथ घर आया और माँ का शव घर मे रख दिया। उनसे कुछ पूछ पाते कि वे लोग यह कहकर चले गए कि मन्दिर से घर लौटते समय महिला रास्ते में स्थित एक सूखे कुएं में गिर गई थी।

पुलिस को घटना की सूचना सोमवार सुबह दी गयी। परिजन इसे पहले ही रेप और हत्या का मामला बता रहे थे लेकिन पुलिस ने पोस्टमार्टम के आधार पर कार्यवाही की बात कहते हुए शव को मंगलवार को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।