गंभीरपुर (आजमगढ) थानाक्षेत्र के अमौड़ा में सोमवार की रात आठ बजे सड़क पर खड़े होकर पुलिसवालों से बात करके घर की तरफ मुड़े प्रधानपति की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सूचना मिलने पर एसपी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल में जुट गए।

मृत प्रधानपति मनीष राय (45) गंभीरपुर थाने के अमौड़ा गांव का निवासी था। मनीष की पत्नी अर्चना राय निवर्तमान प्रधान हैं और आगामी चुनाव की तैयारी कर रही हैं। सोमवार को मनीष राय अपनी कार से बाहर गए थे। गोसाई की बाजार से शाम को वह घर की तरफ लौट रहे थे। गांव वालों के मुताबिक मनीष अमौड़ा में सड़क के किनारे कार खड़ी कर कुछ पुलिसवालों से बात कर रहे थे। करीब पंद्रह मिनट बातचीत के बाद जैसे ही मनीष घर की तरफ चले, पहले से घात लगाए बाइक सवारों ने ताबड़तोड़ गोलियों की बौंछार कर दी। आवाज सुनकर लोग भागकर घटनास्थल पहुंचे। खून से लथपथ मनीष को स्वास्थ्य केंद्र लालगंज ले जाया गया। जहां डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही एसपी सुधीर सिंह भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। एसपी ने बताया कि अब तक की जांच में मामला पुरानी रंजिश का लग रहा। सच का पता लगाया जा रहा।