दर्दनाक हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को मुख्यमंत्री ने 2 लाख रुपये देने की घोषणा की

गुजरात: दर्दनाक हादसे में 15 लोगों की मौत हो गई हो गया। सूरत में सोमवार की सुबह कोसांबा में एक ट्रक ने सड़क किनारे सो रहे 18 लोगों को कुचल दिया। इस । गुजरात पुलिस के मुताबिक सभी श्रमिक थे और राजस्थान के रहने वाले थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत दर्दनाक हादसे को दुखद बताया है वहीँ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने दर्दनाक हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

12 की मौके पर ही मौत
सूरत पुलिस ने कहा कि 12 मजूदरों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि आठ घायलों में से तीन की अस्पताल में इलाज के दौरान जान चली गई। अब तक कुल 15 मजदूरों की मौत हुई। पुलिस का कहना है कि सभी मृतक मजदूर हैं, जो राजस्थान के रहने वाले थे। मामले में और जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

ओवरटेक करने में हुआ हादसा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये घटना रात के करीब 12 बजे के आसपास हुआ। तेज रफ्तार से जा रहे डंपर चालक ने ओवरटेक करने की कोशिश करते हुए गन्ने से लदे ट्रैक्टर को टक्कर मार दी। टक्कर की वजह से डंपर अनियंत्रित हो गया और फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों पर पलट गया। जिससे इस हादसे में तेरह लोगों की मौत हो गई।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज की चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

प्रधानमंत्री ने बताया दुःख
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत की घटना पर दु:ख जताया है। पीएम मोदी ने कहा कि सूरत में दुर्घटना की वजह से लोगों की जान जाना दुखद है। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।”