नई दिल्ली : गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड को अनुमति मिल गई है। ट्रैक्टर रैली गणतंत्र दिवस समारोह के बाद शुरू होगी। दिल्ली की 3 जगहों से (सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर) बैरिकेड्स को हटाकर कुछ किलोमीटर तक अंदर आने पर सहमति बनी है., लेकिन इसमें गड़बड़ी फैलाने की बड़ी साजिश का खुलासा दिल्ली पुलिस ने किया है। दिल्ली पुलिस के अनुसार गड़बड़ी फैलाने की यह साजिश पाकिस्तान की ओर से ओर रही है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

पाकिस्तान की ओर से गड़बड़ी की आशंका
दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर दीपेंद्र पाठक ने ट्रैक्टर परेड में गड़बड़ी की आशंका जताते हुए कहा कि पाकिस्तान में 308 ट्विटर हैंडल बनाए गए ताकि अव्यवस्था फैलाई जा सके. हालांकि पुलिस अब अलर्ट है। किसानों को शर्तों के साथ दिल्ली में तीन जगहों पर ट्रैक्टर परेड को अनुमति दी गई है। उन्होंने कहा कि हमें कई इंटेलीजेंस इनपुट मिले हैं कि इस ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब करने की साजिश रची जा रही है।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज की चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

ट्रैक्टर परेड को अनुमति तय हुए रुट

दीपेंद्र पाठक ने बताय कि सिंघु बॉर्डर पर 62 किलोमीटर का रूट, टिकरी बॉर्डर पर 63 किलोमीटर का रूट और गाजीपुर से 46 किलोमीटर का रूट तय किया गया है। सिंघु बॉर्डर से ट्रैक्टर परेड शुरू होगी जो संजय गांधी ट्रांसपोर्ट, कंझावला, बवाना, औचन्दी बॉर्डर होते हुए हरियाणा में चली जाएगी। टिकरी बॉर्डर से ट्रैक्टर परेड नांगलोई, नजफगढ़, झड़ौदा, बादली होते हुए केएमपी एक्सप्रेस पर चली जाएगी। गाजीपुर यूपी गेट से ट्रैक्टर परेड अप्सरा बॉर्डर गाजियाबाद होते हुए डासना यूपी में चली जाएगी।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

ट्रॉलियां न लाने की अपील
इससे पहले स्वराज इंडिया के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि दिल्ली पुलिस की तरफ से आधिकारिक रूप से 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड को अनुमति मिल गई है। जितने भी साथी अपनी ट्रोलियां लेकर बैठें हैं, मैं उनसे अपील करता हूं कि सिर्फ ट्रैक्टर दिल्ली के अंदर लेकर आएं, ट्रोलियां न लेकर आएं। जैसा कि मैंने पहले बताया किसान गणतंत्र परेड’ 26 जनवरी को शांतिपूर्ण तरीके से होगी।