नई दिल्ली: ट्रैक्टर चालक की हादसे में मौत की खबर, देश के 72वें गणतंत्र दिवस पर किसान दिल्ली में घुस चुके हैं, आईटीओ के पास किसानों और पुलिस के बीच झड़प हुई है। इसमें दावा है कि एक किसान की मौत हो गई है। हालांकि, अभी तक अधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि नहीं हुई है। इधर किसानों ने लाल किले पहुंचकर अपना झंडा भी लहराया है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें 

आईटीओ के पास पुलिस ने प्रदर्शनकारी किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे है और लाठीचार्ज किया है। वहीं, किसानों ने पुलिस की गाड़ी में भी तोड़ फोड़ किया है। इससे पहले किसान संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर पहुच चुके। यहां पर किसानों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया। वहीं, गाजीपुर बॉर्डर पर भी किसानों पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे हैं।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज की चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

ट्रैक्टर चालक की हादसे में मौत

दरअसल, आईटीओ पर पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया तो किसानों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। वहीं ट्रैक्टर पलटने से ट्रैक्टर चालक यूपी के एक किसान नवनीत की मौके पर मौत हो गई।इससे पहले गाजीपुर बॉर्डर से निकले किसानों को पुलिस ने नोएडा मोड़ पर रोक दिया और आंसू गैस के गोले छोड़े। किसानों ने भी पुलिस पर पथराव कर दिया और गाड़ियों में तोड़फोड़ की। पुलिस का दावा है कि किसानों ने पांडव नगर पुलिस पिकेट पर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश की। पुलिस ने यह भी कहा कि निहंगों ने तलवार से पुलिसकर्मियों पर हमले की कोशिश की।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now