लाल किले का गुनहगार आखिर कौन ? ‘दीप सिद्धू’ या अन्नदाता ? जिसने देश के झंडे और देश के अभिमान पर किया प्रहार ?

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

नई दिल्ली: दिल्ली के लाल किले पर मंगलवार को एक धार्मिक झंडा लगाने वाले प्रदर्शनकारियों में शामिल दीप सिद्धू किसान संगठनों की आलोचना का केंद्र बन गया है। इसी बीच दीप सिद्धू फेसबुक पर लाइव हुआ और किसान नेताओं को धमकी दी। जिसमें दीप सिद्धू ने कहा कि ‘अगर मैंने मुंह खोला तो कई किसान नेता बेनकाब हो जाएंगे, लाल किले पर क्या हुआ और किसके कहने पर हुआ जब सच सामने आएगा तो सारे के सारे किसान नेता आंदोलन छोड़कर भाग खड़े होंगे।’

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

दीप सिद्धू पर उकसाने का आरोप
किसान नेताओं ने दीप पर किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान प्रदर्शकारियों को लाल किला की ओर बढ़ने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। दिल्ली पुलिस दीप सिद्धू और ‘गैंगस्टर’ लक्खा सिधाना की तलाश कर रही है।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

सिद्धू-सिधाना पर FIR दर्ज
दिल्ली पुलिस ने लाल किले पर हुई हिंसा के सिलसिले में दर्ज प्राथमिकी में दीप सिद्धू और ‘गैंगस्टर’ से सामाजिक कार्यकर्ता बना लक्खा सिधाना के नाम लिए हैं। अधिकारियों ने जानकारी दी कि दिल्ली पुलिस ने भारतीय दंड संहिता, सार्वजनिक संपत्ति को क्षति से रोकथाम अधिनियम और अन्य कानूनों की प्रासंगिक धाराओं के तहत उत्तरी जिले के कोतवाली थाने में मामला दर्ज किया है। प्राथमिकी में प्राचीन स्मारकों और पुरातात्विक स्थलों और अवशेष अधिनियम तथा शस्त्र अधिनियम के प्रावधानों को भी जोड़ा गया है।