उत्तर प्रदेश: नरेश टिकैत ने माना भाजपा को जिताना ही एक बडी भूल, केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने 30 जनवरी को सद्भावना दिवस मनाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक हम भूख हड़ताल रखेंगे।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

नरेश टिकैत ने माना भाजपा को जिताना ही ग़लती

मुजफ्फरनगर की महापंचायत में चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि चौधरी अजीत सिंह को हराकर बड़ी गलती हुई है, नरेश टिकैत ने माना भाजपा को जिताना ही बहुत बडी ग़लती थी आगे से ऐसी गलती नहीं करेंगे। सभी राजनीतिक दलों ने दिल्ली जाने का आग्रह किया लेकिन भाकियू सुप्रीमो चौधरी नरेश टिकैत ने सूझबूझ से सभी को धन्यवाद कर अपना निर्णय सुनाया। चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन अनुशासन के लिए जाना जाता है हम इसी में रहकर काम करेंगे बस बीजेपी वालों से संभल कर रहे।

30 जनवरी को सद्भावना दिवस
किसान नेता अमरजीत सिंह राडा ने कहा कि हमने 30 जनवरी को सद्भावना दिवस मनाने का फैसला किया है। हमारे नेता सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक उपवास करेंगे। सिंघु बॉर्डर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान किसान नेताओं ने केंद्र सरकार और सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा और आरएसएस इस मोर्चे को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं। किसान नेता दर्शनपाल सिंह ने कहा कि हम सरकार से मांग करते हैं कि इंटरनेट बहाल किया जाए। हमारी बातें लोगों तक नहीं पहुंच सके, इसके लिए इंटरनेट बंद किया गया है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

बीजेपी -आरएसएस पर आरोप
किसानों ने आरोप लगाया कि यहां आज पुलिस ने हिंसा के लिए बीजेपी और आरएसएस के लोग भेजे हैं। लोग यहां बढ़ रहे हैं। गाजीपुर के बाद सिंघु, टिकरी, शाहजहांपुर हर जगह लोग आ रहे हैं। सरकार इसे हिंदू और सिख का मसला बनाना चाहती है। बीजेपी के लोग यहां प्रदर्शन करने भेजे, हम शांतिपूर्ण रहेंगे। किसान नेताओं ने सभी किसानों से अपील भी की है कि वे 30 जनवरी को होने वाली भूख हड़ताल में शामिल हों। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि इस आंदोलन को तोड़ने और खदेड़ने की साजिश नाकाम हो चुकी है, पूरे देश का किसान इस बात को समझ चुका है।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे किसान
स्वराज इंडिया के योगेंद्र यादव ने कहा कि मोदी जी और योगी जी और अन्य सभी ध्यान से सुन लें, किसान इस आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे, चाहे जितना अपमानित और बदनाम कर लें। उन्होंने कहा कि पिछले 72 घंटों में जो षड्यंत्र हुआ है उसको तोड़ने के लिए अगले 72 घंटों में अब हमें सब कुछ ठीक करना है। देश के हर किसान के घर से 1-1 साथी मोर्चे पर पहुचेंगे और मोर्चे को मजबूत करेंगे।