किसान नेता के आंसुओं ने, धो दिये साजिशकर्ता के अरमान ! मेरा समर्थन देश के किसान को – रवि जी. निगम

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

रो पड़े थे राकेश टिकैत
भारी संख्‍या में मौजूद पुलिसबल और लगाई गई मशीनरी ने इन अटकलों को बल दिया था कि किसानों के प्रदर्शन स्‍थल को तोड़ दिया जाएगा. गुरुवार को प्रदर्शन स्‍थल की बिजली और पानी की सप्‍लाई कट कर दी गई थी, हालांकि बाद में इसे बहाल कर दिया गया. किसानों को जब बलपूर्वक भगाया जा रहा था तो किसान नेता राकेश टिकैत, कैमरे के साथ रोते दिखाई दिए थे. उन्‍होंने ऐलान किया था कि कृषि कानूनों पर अंतिम फैसला होने तक वे प्रदर्शन स्‍थल को नहीं छोड़ेगे.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

किसान के आंसुओं ने,

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

किसान के आंसुओं ने,