तहसील में हड़ताल पर बैठे लेखपाल।

तहसील छिबरामऊ में हड़ताल पर बैठे लेखपाल- फोटो -MA 

छिबरामऊ (कन्नौज) 16 सूत्री मांगों को लेकर लेखपाल संघ ने दूसरे दिन भी हड़ताल की। इससे इनसे जुड़े सभी काम ठप रहे। लेखपालों का कहना है कि मांगें पूरी होने तक वह काम पर नहीं लौटेंगे।विज्ञापनnull
उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के अध्यक्ष सर्वेश कुमार यादव और मंत्री अखिलेश कुमार के नेतृत्व में मंगलवार से शुरू हुई हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही। लेखपालों ने तहसील में धरना दिया। लेखपाल संघ के तहसील अध्यक्ष सर्वेश कुमार यादव ने बताया कि लेखपालों के बैठने के लिए समुचित कक्ष उपलब्ध कराए जाए। पांच रुपये के हिसाब से आय, जाति व मूल निवास प्रमाण पत्र का भुगतान होना चाहिए। लेखपाल परवेंद्र कुमार, रामकिशोर यादव, विजयकांत शुक्ला, सुरेंद्र यादव, अमित मिश्रा, रक्षपाल यादव, ओमप्रकाश तिवारी, विवेक कुमार सोनी, अनिल वर्मा, अरुण कुमार, राजदीप, प्रदीप पाल, रेशू यादव, पिंकी यादव, माधवेंद्र पाल, प्रशांत त्रिपाठी, गुलफाम हुसैन व विक्रम सिंह आदि ने समस्याओं के निराकरण कराने की मांग की। तहसील अध्यक्ष ने बताया कि हड़ताल के दौरान लेखपाल दैवी आपदा को छोड़कर अन्य कोई कार्य नहीं करेंगे।लेखपालों की हड़ताल के चलते आय, मूल व जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए लोग तहसील के चक्कर काट रहे हैं। नेशनल हाईवे चौड़ीकरण के मुआवजे की फाइलों के सत्यापन के साथ ही घरौनी, विरासत दर्ज कराने का काम भी पूरी तरह से ठप हो गया है। मंगलवार को तहसील समाधान दिवस में आईं राजस्व विभाग की 60 शिकायतों का दूसरे दिन भी निस्तारण नहीं हो सका।