राकेश टिकैत – किसी भी हाल में हम सरकार के दबाव में बातचीत नहीं करेंगे

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

नई दिल्ली : किसानों ने देशभर के कई हिस्सों में शनिवार को कृषि कानूनों के खिलाफ चक्का जाम किया। यूपी और उत्तराखंड को छोड़कर देश के बाकी राज्यों में दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक ये चक्का जाम बुलाया गया। चक्का जाम के दौरान कोई किसान दिल्ली की तरफ नहीं आया। हालाकि दिल्ली में भी सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए थे। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हमने कानूनों को निरस्त करने के लिए सरकार को 2 अक्टूबर तक का समय दिया है। इसके बाद हम आगे की प्लानिंग करेंगे। हम दबाव में सरकार के साथ बातचीत नहीं करेंगे।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

पूरे देश में आंदोलन की दी चेतावनी
राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार कृषि कानूनों को वापस ले और एमएसपी पर कानून बनाए नहीं तो आंदोलन जारी रहेगा। हम पूरे देश में यात्राएं करेंगे और पूरे देश में आंदोलन होगा। उन्होंने एक बार फिर कहा कि केवल तीनों कानून की वापसी के बाद ही हम अपने घऱ जाएंगे।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

MA news Logo 1 MANVADHIKAR ABHIVYAKTI NEWS

Download now

दिल्ली में बहाल हुईं मेट्रो सेवाएं
चक्का जाम समाप्त होने के बाद दिल्ली मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार खुल गए हैं। सामान्य सेवा फिर से शुरू हो गई है। वहीं, चक्का जाम के समर्थन में दिल्ली के शहीदी पार्क में प्रदर्शन कर रहे करीब 50 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया।