किसान संगठनों द्वारा पुलवामा के शहीदों केे नाम 14 फरवरी ‘मशाल जूलूस’

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

नई दिल्ली: तीन नए कृषि क़ानूनों की वापसी को लेकर पिछले 80 दिनों से किसान संगठन आंदोलन कर रहे हैं। इसी क्रम में सरकार पर दवाब बनाने के लिए किसान संगठनों ने 18 फ़रवरी को रेल रोको आंदोलन का ऐलान किया है। सिंघु बॉर्डर पर बुधवार को आयोजित प्रेस वार्ता में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता दर्शनपाल सिंह ने इस बात की जानकारी दी।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

किसान संगठनों का रोको कार्यक्रम 12 से 4 बजे तक
डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ़ इंडिया के प्रमुख दर्शन पाल ने कहा, “16 फरवरी को किसान सर छोटूराम की जयंती पर देशभर में एकजुटता दिखाएंगे। इसी के साथ पूरे देश में रेल रोको कार्यक्रम 18 फरवरी को 12 से 4 बजे तक आयोजित किया जाएगा।”

पुलवामा के शहीदों को करेंगे याद
दर्शनपाल ने आगे कहा, “12 फरवरी से राजस्थान के सभी टोल प्लाजा को टोल फ्री कर दिया जाएगा। इसी के साथ 14 फरवरी को देशभर में कैंडल मार्च, ‘मशाल जूलूस’ और अन्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, जिसमें पुलवामा हमले में शहीद सैनिकों के बलिदान को याद किया जाएगा।”

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

MA news Logo 1 MANVADHIKAR ABHIVYAKTI NEWS

Download now

हरियाणा के BJP, JJP के विधायकों से सत्ता छोड़ने का आग्रह
दर्शन पाल सिंह ने कहा, “हम हरियाणा सरकार में शामिल BJP और JJP के विधायकों से कहेंगे कि या तो आप हमारे आंदोलन का साथ दीजिए या फिर सरकार का साथ छोड़ दीजिए। इसके साथ हमने राजस्थान के लोगों से कहा है कि सारे टोल प्लाजा को खोल दिया जाए.”