कलक्ट्रेट में प्रदर्शन करतीं स्वयं सहायता समूह की महिलाएं।

कलक्ट्रेट में प्रदर्शन करतीं स्वयं सहायता समूह की महिलाएं।

कन्नौज (यूपी) राशन कोटे के चयन का विरोध करने कलक्ट्रेट आईं स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से पुलिस की नोकझोंक हुई। महिलाएं प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगा रही थीं। बाद में कार्रवाई का भरोसा देने पर महिलाएं शांत हुईं।
थाना इंदरगढ़ के पूराराय के चार स्वयं सहायता समूह की महिलाएं गुरुवार को कलक्ट्रेट पहुंचीं। डीएम राकेश कुमार मिश्र के बैठक में होने से उन्हें समस्या नहीं बता सकीं। इस पर यह प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाने लगीं। कलक्ट्रेट कर्मियों ने सदर कोतवाली पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस को देखकर महिलाओं ने नारेबाजी तेज कर दी। एसएसआई नन्हेंलाल और महिला सिपाहियों ने इन्हें समझाने का प्रयास किया। यह मानने को तैयार नहीं हुईं। इनकी पुलिस से नोकझोंक हुई।
समूह की महिलाओं ने आरोप लगाया कि गांव में बिना किसी सूचना के बैठक बुला ली गई। इसमें उन्हें प्रतिभाग नहीं करने दिया गया। एक समूह को सत्ता पक्ष के नेता के दबाव में राशन कोटा दे दिया गया। इन्होंने कोटा चयन को निरस्त कर दोबारा प्रक्रिया कराए जाने की मांग की। एसएसआई ने उच्चाधिकारियों के माध्यम से समस्या का निराकरण कराने का आश्वासन दिया। इसके काफी देर बाद महिलाएं शांत हुईं। इस मौके पर समूह की पूनम, मीना, सुनीता, राजरानी, ममता, रामबेटी, नीलम, पूजा, सोनी आदि मौजूद रहीं।