इटावा के एसएसपी आकाश तोमर की दरियादिली एक बार फिर शुक्रवार को दिखाई दी। उन्होंने एक छात्र की गुजारिश पर उसका पांच हजार रुपये का चालान माफ कर दिया। छात्र की बाइक में लगी नंबर प्लेट का एक नंबर हटने के कारण पांच हजार का चालान काटा गया था। छात्र ने ट्वीट कर एसएसपी से मदद मांगी थी।

इटावा (यूपी) इटावा-फर्रुखाबाद मार्ग पर स्थित ग्राम हरिहरपुरा निवासी एमए प्रथम वर्ष के छात्र दीपेंद्र यादव 10 फरवरी की शाम को कोचिंग से घर लौट रहा था। भरथना चौराहा पर थाना फ्रेंड्स कालोनी की पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान उसकी बाइक में नंबर प्लेट पर एक नंबर हटा देखकर चालान काटते हुए पांच हजार रुपये का जुर्माना ठोंक दिया। 

उसी रात दीपेंद्र ने अपने मन की बात एसएसपी आकाश तोमर को ट्वीट करके बताई। लिखा कि वह अपनी गलती स्वीकार करता है, लेकिन इतने पैसे देने में असमर्थ है। घर की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। कृपया मदद करें। आपको बहुत से लोगों की मदद करते सुना और देखा है। इस पर एसएसपी ने मामले की जांच का भरोसा दिया। टीएसआई रवि तोमर को मामले की जांच दी गई। जांच में उसकी बात सच निकलने पर शुक्रवार शाम को एसएसपी ने खुद दीपेंद्र को ट्वीट करके बताया कि उनका चालान निरस्त कर दिया गया है।