28 C
Mumbai
Tuesday, September 27, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

राहुल का वादा, सरकार बनी तो असम में नहीं लागू होगा CAA

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को असम में एक बड़े वादे के साथ विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत की। शिवसागर की एक रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि अगर राज्य में हमारी सरकार सत्ता में आती है तो हम कभी भी संशोधित नागरिकता कानून (CAA ) लागू नहीं करेंगे।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

CAA लिखे गमछे पर लगाया क्रॉस
राहुल गांधी ने भीड़ को सम्बोधित करते हुए कहा, “हमने ये गमछा पहना है इसपे लिखा है सीएए…हमने इसपर क्रॉस लगा रखा है। इसका मतलब चाहे कुछ भी हो जाए, असम में सीएए नहीं होगा। राहुल ने कहा कि जिनती आपको देश की जरूरत है उतनी देश को आपकी जरूरत है। असम को चोट पहुंचेगी तो हिंदुस्तान को चोट पहुंचेगी , हम ये नहीं चाहते हैं, ये हम नहीं होने देंगे।

असम का सबसे बड़ा मुद्दा रोजगार
राहुल गांधी ने कहा, असम का सबसे बड़ा मुद्दा रोजगार है। राज्य का युवा जानता है कि बीजेपी सरकार में रोजगार नहीं मिलेगा। नरेंद्र मोदी खेती को खत्म करने के लिए तीन कृषि कानून लाए हैं।. हम यहां सरकार में आएंगे तो जो नफरत फैलाई जा रही है वो खत्म होगी।”

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

प्रदेश को बाँट रही है भाजपा सरकार
कांग्रेस नेता ने कहा, “देश की सरकार ने तरुण गोगोई जी का और इस प्रदेश का अपमान किया है। असम की जनता में वो क्षमता है कि अवैध प्रवास के मुद्दे को मिलकर सुलझाया जा सकता है। अगर यह प्रदेश फिर से बंट गया, जो बीजेपी और आरएसएस रोज करते हैं तो असम का नुकसान होगा।”

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें 

नागपुर से चलती है मौजूदा असम सरकार
उन्होंने कहा, “रिमोट कंट्रोल एक टीवी चला सकता है, लेकिन मुख्यमंत्री को नहीं। मौजूदा मुख्यमंत्री नागपुर और दिल्ली की बात सुनते हैं। अगर असम को फिर से इस तरह का मुख्यमंत्री मिलता है, तो इससे लोगों को कोई फायदा नहीं होगा। युवाओं को एक ऐसे मुख्यमंत्री की जरूरत है, जो उन्हें नौकरी दे।” उन्होंने मोदी सरकार पर कोविड-19 महामारी के दौरान सार्वजनिक धन की लूट करने और दो बड़े व्यवसायी दोस्तों के कर्ज माफ करने का भी आरोप लगाया।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here