जिला अस्पताल का महिला विंग। संवाद

जिलाअस्पताल कन्नौज में रात्रि ड्यूटी पर तैनात कम्पाउंडर

कन्नौज (यूपी) जिला अस्पताल की महिला विंग में रात में आने वाले मरीजों को परेशानी हो रही है। यहां दिन के समय ही महिला डॉक्टर रहती हैं। रात में व्यवस्था स्टाफ नर्सों के हवाले हो जाती। इससे केस गंभीर होने पर रात में रेफर करना पड़ जाता है।
जिला अस्पताल की महिला विंग में तीन महिला रोग विशेषज्ञों की तैनाती है। इनमें डॉ. निधी गोयल, डॉ, मनप्रीत कौर और डॉ. पूर्णिमा सोनकर शामिल हैं। यह दो-दो दिन अस्पताल पहुंच कर उपचार देती हैं। दिन के समय यह मौजूद रहती हैं। इससे गर्भवती और ओपीडी में आने वाली महिला मरीजों को सहूलियत रहती है। रात में किसी डॉक्टर की मौजूदगी नहीं रहती। तब पूरी व्यवस्था स्टाफ नर्सों के हवाले हो जाती है। इससे गंभीर केस आने पर रेफर कर दिया जाता। रात के समय रेफर करने से मरीजों की जान पर बन आती है।
ठठिया के राजकुमार का कहना है कि रात में महिला विंग में डॉक्टर नहीं रहती हैं। इससे गर्भवती या किसी अन्य वजह से महिला मरीज को लाने पर सही से उपचार नहीं मिल पाता। इस दौरान गर्भवती को स्टाफ नर्सों के सहारे रहना पड़ता है। गंभीर मामलों में कानपुर या अन्य अस्पताल के लिए रेफर कर दिया जाता है। यह समस्या लंबे समय से है। तमाम शिकायतों के बाद भी हल नहीं निकल सका। इस संबंध में सीएमएस डॉ. शक्ति बसु का कहना है कि रात में महिला डॉक्टर की ड्यूटी लगाई जाती है। इमरजेंसी केस होने पर ऑनकाल डॉक्टर पहुंचती हैं। गर्भवती या अन्य किसी मरीज को दिक्कत होने पर शिकायत की जा सकती है।