नई दिल्ली: किसान नेता राकेश टिकैत ने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि इसी महीने भाजपा के सांसद किसान आंदोलन के समर्थन में अपना इस्तीफ़ा देने वाले हैं. किसान नेताओं ने सीधे तौर पर मोदी सरकार को चुनौती देते हुए कहा है कि जब तक कृषि संबंधी कानूनों पर बात नहीं बनेगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा। राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार से अब बातचीत की कोई गुंजाइश नहीं है, तैयारी लंबी है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

संसद के बाहर बनाएंगे मंडी
न्यूज़ चैनल आज तक से बातचीत में टिकैत ने संसद भवन के बाहर मंडी बनाने की बात तक कह डाली है। गौरतलब है कि किसानों का नए कृषि संबंधी कानूनों को लेकर लगातार तीन महीने से अधिक समय से दिल्ली में प्रदर्शन चल रह है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करे

किसानों को बताये जायेंगे उनके हित
टिकैत ने कहा है कि सरकार कहती है कि आप अपनी फसल कहीं भी बेच सकते हैं। तब जहां पर ये कानून बना है उसी के बाहर किसानों का फसल बेचा जाना सही रहेगा। टिकैत ने ये भी स्पष्ट किया है कि उनका चुनाव या वोट से कोई लेना-देना नहीं है। हालांकि, उन्होंने कहा है कि किसानों का जागरूक करने का काम किया जाएगा और किसानों को ये बताया जाएगा कि कौन सी सरकार उनके हित में है।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें