नई दिल्ली: दिल्ली बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। किसान आंदोलन के आज 100 दिन पूरे हो गए हैं। इस मौके पर किसान केएमपी (कुंडली मानेसर पलवल) एक्सप्रेसवे पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों ने जाम लगा दिया है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

सरकार को जगाने का यही रास्ता
राजेश चौहान भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने आज कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेसवे को जाम करने पर कहा, “सोई सरकार को जगाने का हमारे पास यही रास्ता बचा है। दिल्ली के चारों तरफ जो बॉर्डर हैं उन्हें हम सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक जाम करेंगे। ये अहिंसक होगा।”

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

आंदोलन के 100 दिन पूरे
कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है। किसान आंदोलन के आज 100 दिन पूरे हो गए हैं। इस मौके पर किसान केएमपी (कुंडली मानेसर पलवल) एक्सप्रेसवे को 5 घंटे तक जाम करेंगे। सुबह 11 से शाम 4 बजे के बीच जाम किया जाएगा। इसके साथ ही किसान, आंदोलन के 100 दिन पूरे होने को काला दिवस के रूप में मना रहे हैं।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करे

काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन
किसान डासना, दुहाई, बागपत, दादरी, ग्रेटर नोएडा पर किसान चक्का जाम करेंगे। किसान काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही टोल प्लाजा भी फ्री किए जाएंगे। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है।