नई दिल्ली: लंबे समय से रेलवे स्टेशनों पर बंद प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री एक बार फिर शुरू कर दी गयी है मगर कीमतें 3 से 5 गुना तक बढ़ गई है. रेलवे के अनुसार प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाना कोरोना प्रसार को रोकने के लिए है और यह बढ़ोतरी उन्हीं स्टेशनों पर की जा रही हैं, जहां भारी भीड़ देखी जा रही है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

रेल मिनिस्ट्री ने कहा कि मुंबई डिवीजन में कुल 78 स्टेशन हैं जिसमें से सिर्फ 7 स्टेशनों पर ही प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाए गए हैं. पहले प्लेटफॉर्म टिकट 10 रुपये का था जो अब कुछ स्टेशनों पर 30 रुपये का हो गया है. मुंबई के प्रमुख स्टेशनों पर इसके लिए यात्रियों के संबंधियों को प्रति टिकट 50 रुपये चुकाने होंगे.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

रेल मंत्रालय ने कहा कि रेल स्टेशनों पर भीड़-भाड़ रोकने के लिए क्षेत्रीय रेल प्रबंधक-डीआरएम को शक्ति प्रदान की गई है. रेल मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतें बढ़ाने की शक्तियां डीआरएम को प्रदान की गई हैं. मिनिस्ट्री ने कहा कि इस बार जो प्लेटफॉर्म टिकट महंगा किया गया, वह नया नहीं है और पिछले कई वर्षों से प्रचलन में है. भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कुछ समय के लिए प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतें बढ़ा दी जाती हैं. ये फैसले आमतौर पर त्यौहार या मेले के समय लिए जाते हैं और फिर धीरे-धीरे वापस ले लिए जाते हैं.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करे