कन्नौज (यूपी) जिले में घर से रासलीला देखने निकले युवक का लहूलुहान शव सोमवार सुबह तिर्वा-ठठिया मार्ग पर करेड़ा गांव सर्विस रोड के एक खेत में मिला। परिजनों ने हत्या का शक जताया है। बताया जा रहा है कि गांव के ही कुछ लोगों से दो दिन पहले खेत से मिट्टी उठाने को लेकर विवाद हुआ था।

इधर, पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। फिलहाल पुलिस सड़क हादसे में मौत और हत्या दोनों बिंदुओं पर जांच कर रही है। निजामपुर गांव निवासी अहिबरन का बेटा सूरज (20) खेतों में मजदूरी करता था। यह अविवाहित था। परिजनों ने बताया कि गांव से करीब दो किमी दूर फुलवारी गांव में भागवतकथा व रासलीला हो रही है।

सूरज वहां अक्सर जाता था। रविवार शाम रासलीला में जाने की बात कहकर पैदल निकला था। सोमवार सुबह करेड़ा गांव के पास सर्विस रोड किनारे खेत में लहूलुहान शव मिला। खेत गए मजदूरों ने देखकर पुलिस को सूचना दी। थानाध्यक्ष राजकुमार पहुंचे और शव की शिनाख्त न होने पर शव को मेडिकल कॉलेज मोर्चरी में रखवा दिया। 

शव के पास पड़े मिले मोबाइल के आधार पर फोन करने से काफी समय बाद शिनाख्त हो पाई। सीओ दीपक दुबे का कहना है कि सड़क हादसा या हत्या, इसके बारे में पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही पता चल सकेगा। पुलिस दोनों बिंदुओं को ध्यान में रखकर छानबीन कर रही है। सिर पर गहरी चोट से मौत लग रही है।