CM Mamta Banerjee to start wheelchair election campaign from 15 March

व्हीलचेयर पर बैठी सीएम ममता बनर्जी

  • ममता बनर्जी व्हीलचेयर पर अपने चुनाव अभियान की शुरूआत करेंगी.
  • ममता बनर्जी पहली बार पुरुलिया जिले का दौरा करेंगी.
  • यहां तृणमूल प्रमुख दो जनसभाओं को संबोधित करने वाली हैं.

न्यूज़ डेस्क

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सोमवार से व्हीलचेयर पर अपने चुनाव अभियान की शुरूआत करेंगी. इस सप्ताह के शुरू में पूर्वी मिदनापुर के नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान लगी चोटों का इलाज कराने के बाद तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो को शुक्रवार शाम को राज्य के एसएसकेएम अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. वह पहली बार पुरुलिया जिले का दौरा करेंगी, जहां तृणमूल प्रमुख दो जनसभाओं को संबोधित करने वाली हैं – एक बाघमंडी के झालदा इलाके में और दूसरी बलरामपुर के रथतला मैदान में.

अपने पहले अभियान कार्यक्रम के अनुसार, वह दो अन्य जिलों-बांकुड़ा और झारग्राम का दौरा करेंगी. सूत्रों ने कहा कि सीएम हेलीकॉप्टर से इन सभी जिलों की यात्रा करेंगे, लेकिन वह व्हीलचेयर पर बैठे रहेंगी, क्योंकि उनके पैर में लगी चोट पूरी तरह से ठीक नहीं हुई है. बनर्जी को बुधवार शाम नंदीग्राम में एक चुनाव प्रचार के दौरान पैर में चोट लग गई थी.

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव को लेकर सियासत अपने पूरे चरम पर है. बीजेपी-टीएमसी एक दूसरे पर जमकर आरोप लगा रहे हैं. वहीं, बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के साथ हुई घटना ने बंगाल की सियासी हलके में जबरदस्त हंगामा हो रहा है. टीएमसी ममता बनर्जी को लगी चोट को भुनाने में लगी है. दरअसल, पश्चिम वर्धमान जमुड़िया के बहादुरपुर इलाके मे दीवार लेखन किया गया है, जिसमें लिखा गया है कि टूटे पैर से ही खेल होगा. यहां पर टीएमसी कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने तमाम तरह के व्यंग्यात्मक दीवार लेखन किया है.

टीएमसी के दावा है कि इससे लोगों की काफी अच्छी प्रतिक्रियां मिल रही है. जमुड़िया मे कई दीवार लेखन के जरिए मोदी और मिथुन चक्रवर्ती पर तंज कसा गया है. बहादुरपुर इलाके के बहादुरपुर रुईदास पाड़ा सहित कई इलाकों मे इस तरह के दीवार लेखन से काफी हलचल मच गयी है. टीएमसी समर्थक खुशबु रुईदास ने कहा कि नंदीग्राम मे घायल होने के बाद टीएमसी नेत्री ममता बनर्जी स्वस्थ्य होकर घर लौट चुकी हैं.

साभार- न्यूज़ नेशन