अधूरा पड़ा ईशन नदी पुल।

अधूरा पड़ा ईशन नदी पुल। 

तालग्राम (कन्नौज) ईशन नदी पर पुल बनने की तय समय सीमा को एक साल और बीत रहा। काम अब तक अधूरा है। इससे इलाके के करीब 20 गांवों के लोग परेशान हैं।विज्ञापन
राज्य सरकार की ओर से छदामीपुर्वा में ईशन नदी पर सात करोड़ 12 लाख की लागत से 80 मीटर लंबे पुल का निर्माण जनवरी 2019 में शुरू कराया गया था। समय सीमा मार्च 2020 तय की गई थी। सेतु निर्माण निगम के अधिकारियों की लापरवाही से मार्च 2021 बीतने जा रहा है। काम 80 फीसदी ही पूरा हो सका है। पुल शुरू न होने से तालग्राम और इंदरगढ़ इलाके के महराजपुर, गोकुल नगरिया, भुजरिया, भोरामऊ, मनिकापुर, परोहटिया, टिकरी, कुड़री और मस्तियापुर के लोगाें को इंदरगढ़, तालग्राम और सौरिख कस्बा पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इन गांवों के लोगों को करीब आठ किलोमीटर दूरी का चक्कर लगाना पड़ रहा है। कई बार ग्रामीणों ने अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से जल्द पुल निर्माण की मांग की। नतीजा सिफर रहा। 
सेतु निगम के अवर अभियंता दशरथ सिंह का कहना है कि छदामीपुर्वा की तरफ कुछ किसान जमीन विवाद के कारण निर्माण नहीं होने दे रहे हैं। यह जमीन के बदले जमीन मांग रहे हैं। इस विवाद को प्रशासनिक अधिकारी सुलझा दें तो निर्माण जल्द पूरा करा लिया जाएगा।