मिस्र में खुदाई के दौरान रेत के नीचे से तीन हज़ार साल पुराना शहर मिला है।

मिस्र के पुरातत्वविदों ने बताया है कि खुदाई के दौरान उनको ऐसा शहर मिला है जो कम से कम 3000 साल पुराना है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

मिस्र के जानेमाने पुरातत्वविद ज़ाही हवास ने बताया कि मिस्र में खोजा गया यह अबतक का सबसे विशाल प्राचीन नगर है।  उन्होंने कहा कि इस नगर में राजाओं की घाटी स्थित है।  इस प्राचीन नगर से सोने के आभूषण, रंगीन बर्तन, कच्ची मिट्टी की ईंटें और बरतन तथा कुछ और चीज़ें मिली हैं।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

मिस्र के विख्यात पुरातत्वविद के नेतृत्व में की गई खुदाई में जो नगर ज़मीन में दफ़्न मिला है उसको, “खोए हुए सुनहरे नगर” का नाम भी दिया गया है।  उनका कहना है कि जिस स्थान से यह नगर मिला है वहां पर विगत में भी कई बार खुदाई हो चुकी है किंतु पहले हमें वहां पर कुछ भी नहीं मिला।  इस बात की आशा जताई जा रही है कि आगे की खुदाई में ख़ज़ाने भी मिल सकते हैं।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

रेत के नीचे खोजा गया 3000 साल पुराना नगर, मिस्र की राजधानी क़ाहिरा से लगभग 500 किलोमीटर की दूरी पर स्थित लग्जर नामक स्थान पर है।  यह अति प्राचीन नगर वर्तमान समय में अच्छी हालत में है।  इस प्राचीन नगर में जो मकान मिले हैं उनकी दीवारें काफ़ी हद तक सुरक्षित हैं।  खोज करने वाली टीम का कहना है कि मिस्र का यह प्राचीन नगर हज़ारों सालों के बाद भी ऐसा लग रहा है जैसे यह अधिक पुराना नहीं है।