नई दिल्ली – सरकार ने किया ऐलान, केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने कहा अब 1 मई से 18 साल से ऊपर के प्रत्येक व्यक्ति कोरोना वैक्सीन लगवा सकेंगे. अभी तक 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगवाने की इजाजत दी गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सोमवार को हुई एक अहम बैठक में यह फैसला लिया गया. बैठक के बाद भारत सरकार ने एक मई से कोरोना वैक्सीनेशन के तीसरे चरण के रणनीति की घोषणा की. जिसके मुताबिक 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग वैक्सीन लगवा सकेंगे। ज्ञात हो कि सोनियाँ गाँधी ने 25 वर्ष के लोगों को वैक्सीन लगानेे की दी थी सलाह।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

सरकार ने किया ऐलान

1 मई से शुरू होगा तीसरा चरण सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, ” एक मई से 18 साल से ऊपर सभी उम्र के लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी.” इसमें कहा गया है कि वैक्सीन का प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए कंपनियों को इंसेंटिव दिया जाएगा. इसके साथ ही नई देसी-विदेशी कंपनियों को भी वैक्सीन के निर्माण के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

केन्द्र सरकार का कहना है कि विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण में टीकों की खरीद और टीका लगवाने की पात्रता में ढील दी जा रही है. सरकार की ओर से कोरोना वैक्‍सीन बनाने वाली कंपनियों को उनकी 50 प्रतिशत तक आपूर्ति पहले घोषित किए गए दाम पर राज्य सरकारों और खुले बाजार में बेचने का अधिकार दिया गया है. अभी तक 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को सरकारी अस्पतालों में कोरोना का टीका फ्री लगााया जा रहा था. लेकिन 18 से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन के लिए कीमत चुकानी होगी या नहीं इस पर सरकार जल्द ने अभी कोई बयान जारी नहीं किया है।