सरकार की लापरवाही से हो रही मरीजों की मौत

पत्रकारों से वार्ता करते पूर्व ब्लाक प्रमुख नवाव सिंह यादव

तिर्वा (कन्नौज) मेडिकल कॉलेज के निकट एक गेस्ट हाउस में पत्रकारों से वार्ता करते हुए पूर्व ब्लॉक प्रमुख नवाअ सिंह यादव ने कहा कि कोरोना की इस महामारी से निपटने के लिए प्रदेश शासन ने कोई ठोस रणनीति नहीं बनाई। पिछले एक साल के दौरान अस्पतालों में संसाधन उपलब्ध नहीं कराए। ऑक्सीजन प्लांट को लगाने की भी कोई व्यवस्थाएं नहीं की गई। जिससे मौतो का सिलसिला थम नहीं रहा हैं। कहा कि सपा शासन के दौरान राजकीय मेडिकल कॉलेज की स्थापना हुई थी। सपा के कार्याकाल में मेडिकल कॉलेज में मरीजों को बेहतर इलाज मिलता था।

चिकित्सकों की भी कोई कमी नहीं थी। भाजपा शासन ने चार सालों में मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाएं चैपट कर दी हैं। यहां वेंटीलेटर तो है, पर इसके संचालन के लिए तकनीकी कर्मचारी व ऐनेस्थिसिया चिकित्सक नहीं हैं। जिससे आईसोलेशन वार्ड में गंभीर मरीजों को वेंटीलेटर नहीं उपलब्ध कराया जा रहा है। मरीज इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। जिला चिकित्सालय व छिबरामऊ के सौ शैया अस्पतालों में कोविड वार्ड नहीं बनाए गए। जिससे पूरा दारोमदार मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाओं पर पड़ा है। लगातार बढ़ते मरीजों की संख्या के चलते मेडिकल कॉलेज की स्वास्थ्य सुविधाएं खुद वेंटीलेटर पर पहुंच गई है। इस मौके पर सपा नेता राजीव चैहान, अवनीश यादव, सर्वेश बाथम, सुरजीत यादव, धर्मवीर पाल, इरफान खान, सतेन्द्र सिंह, रोहित यादव सहित कई सपाई मौजूद रहे।