लखनऊ (यूपी) पूरे उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का हाहाकार मचा हुआ है। राज्य में कोरोना संक्रमण को देखते हुए वीकेंड कर्फ्यू दो दिनों से बढ़ा दिया गया है। यूपी में अब छह मई की सुबह सात बजे तक आंशिक कर्फ्यू जारी रहेगा। इससे पहले यूपी में तीन दिन के वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा हुई थी जो कि मंगलवार सुबह सात बजे समाप्त होना था। फिलहाल छह मई की सुबह सात बजे तक वीकेंड कर्फ्यू जारी रहेगा। इस दौरान सिर्फ जरूरी सेवाएं ही जारी रहेंगी। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा, ‘यूपी में आंशिक कोरोना कर्फ्यू छह मई को सुबह सात बजे तक जारी रहेगा।’ साप्ताहिक बंदी के अलावा पहले से चल रहा कर्फ्यू जारी रहेगा।

योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के सभी क्षेत्र में शुक्रवार रात आठ बजे से मंगलवार सुबह सात बजे तक लागू आंशिक कोरोना कर्फ्यू को दो दिन और बढ़ाकर छह तारीख की सुबह सात बजे तक कर दिया गया है। शुक्रवार रात आठ बजे से शुरू हुआ आंशिक कोरोना कर्फ्यू अब कुल मिलाकर पांच दिन का हो गया है। इस दौरान बाजार बंद रहेंगे, बेवजह किसी भी व्यक्ति के बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी। साप्ताहिक मार्केट भी नहीं लगेगी। मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम भी बंद रहेंगे। हालांकि, इस दौरान जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी। मीडिया, चिकित्सा जैसे अन्य जरूरी क्षेत्र के लोगों को छूट रहेगी और परिवहन जारी रहेगा। वहीं रेस्त्रां भी खुले रहेंगे लेकिन सिर्फ होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।

वायरस का प्रकोप लगातार जारी

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार जारी है। बीते दिनों प्रदेश में 30 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। जबकि तीन लाख एक्टिव केस हैं। इसी के चलते प्रदेश सरकार ने पहले से चले आ रहे वीकेंड लॉकडाउन को छह मई तक बढ़ा दिया है।

कल से कोरोना स्क्रीनिंग अभियान शुरू

गांव में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे देखते हुए बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश के सभी 97 हजार राजस्व गांव में कोविड-19 को लेकर विशेष अभियान चार मई से चलाया जाएगा। प्रदेश में सभी ग्राम पंचायतों में टीम भेजकर प्रदेश व्यापी स्क्रीनिंग अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान खांसी बुखार और जुकाम जैसे लक्षण वाले लोगों का टेस्ट कर तत्काल उन्हें आइसोलेशन में भेजा जाएगा। घर में आइसोलेशन की व्यवस्था न होने पर सरकार इसकी व्यवस्था करेगी।