28 C
Mumbai
Thursday, September 29, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

MCC के नये नियम के मुताबिक बांस के बल्ले का प्रयोग करना अब अवैध माना जायेगा

देश – विदेश: MCC के नये नियम, लंदन में मैरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी), जो दुनिया भर के क्रिकेट नियमों को अपनी नजर में रखता है, ने अब तक क्रिकेट में कई बड़े बदलाव किए हैं। कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के दो छात्र, जो क्रिकेट में शोध कर रहे हैं, ने बांस के बल्ले का उपयोग करने के विचार को प्रदर्शित किया। एमसीसी ने कहा कि क्रिकेट में इस तरह के बल्ले का इस्तेमाल करना अवैध होगा। एमसीसी क्रिकेट के नियमों की संरक्षक संस्था है। इस क्लब का इतिहास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से भी पुराना है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

MCC के नये नियम

दर्शील शाह और बेन टिंकलर डेविस, क्रिकेट पर विश्व-प्रसिद्ध कैंब्रिज विश्वविद्यालय के शोधकर्ता, लगभग 15 वर्षों से क्रिकेट में बांस के बल्ले के उपयोग पर शोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “एक बांस का बल्ला लकड़ी के बल्ले की तुलना में अधिक टिकाऊ होता है। साथ ही यह बल्ला ज्यादा मजबूत होगा। बांस के बल्ले से यॉर्कर खेलना आसान हो जाएगा। यह बल्ला सभी प्रकार के शॉट्स के लिए उपयुक्त है। “

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

एमसीसी नियम 5.3.2 के अनुसार, बल्ला लकड़ी का बना होना चाहिए। क्योंकि बांस घास है, इसलिए इसे बल्ले के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। बांस के बल्ले के बारे में, एमसीसी ने कहा, “इस तरह के बल्ले को अनुमति देना अवैध होगा। वर्तमान में यह नियमों के विरुद्ध है। हालांकि, MCC उप-समिति की इस बैठक में इस पर चर्चा की जा सकती है। “

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here