WHO ने भारत में कालाबाजारी को देखते हुये रेमडेसिविर को लिस्ट से किया बाहर !

जिनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि उसने Gilead Sciences के एंटीवायरल ड्रग रेमेडिसविर को अपनी ‘Prequalification List’ लिस्ट से बाहर कर दिया है.बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की यह लिस्ट विकासशील देशों द्वारा खरीद के लिए बेंचमार्क के रूप में उपयोग की जाने वाली दवाओं की एक आधिकारिक सूची है.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

डब्ल्यूएचओ के प्रवक्ता तारिक जसारेविक ने कहा कि, हमने रेमडेसिविर को Prequalification List से सस्पेंड कर दिया है. यह निलंबन उन देशों के लिए एक संकेत है कि इलाज के दिशानिर्देंशों के अनुसार WHO देशों को कोरोना के इलाज के लिए रेमेडिसविर दवा खरीदने की सलाह नहीं देता है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

इससे पहले शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी दी थी कि एंटीवायरल दवा रेमेडिसविर का इस्तेमाल कोविड रोगियों के इलाज के लिए नहीं किया जाना चाहिए, चाहें वे कितने भी बीमार क्यों न हों क्योंकि इसका कोई सबूत नहीं है कि यह वायरस से लड़ने में काम करता है. बीते दिनों कोरोना के मामले बढ़ने के बाद भारत में रेमेडिसविर की मांग तेजी से बढ़ गई थी.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *