28 C
Mumbai
Friday, February 3, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

30 लाख रूपये की आर्थिक सहायता कांग्रेस ने अरुण वाल्मीकि के परिवार को दी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज अपने लखनऊ आवास पर आगरा में पुलिस कस्टडी में मारे गये सफाई कर्मचारी अरूण बाल्मीकि की पत्नी, माँ और भाई से मुलाकात की और न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। उनकी पूर्व घोषणा के मुताबिक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी एवं राष्ट्रीय रोहित चौधरी ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय में परिजनों को तीस लाख (30 लाख) रूपये की संवेदना राशि का चेक प्रदान किया।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

गौरतलब है कि 19 अक्टूबर 2021 को जनपद आगरा में पुलिस की हिरासत में अरूण बाल्मीकि की मृत्यु हो गयी थी। परिजनों ने पुलिस पर बर्बरता का आरोप लगाया था और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आगरा जाकर परिवार के प्रति संवेदना जताते हुए उनकों न्याय दिलाने की लड़ाई में पूरा साथ देने का वादा किया था। उन्होंने कांग्रेस पार्टी की ओर से तीस लाख रूपये की सहायता राशि देने का वादा किया था।

आज अरूण बाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात के दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि अरूण बाल्मीकि के परिवार को न्याय देने के लिए यूपी की योगी सरकार ने कुछ भी नहीं किया, लेकिन मैं न्याय की आवाज को दबने नहीं दूंगी। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार पीड़ितो को सरक्षण देने के बजाय उन पर ही आक्रमण करती है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेन्स में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने अरूण बाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख रूपये का चेक सौंपते हुए योगी सरकार पर गम्भीर सवाल उठाये।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अरुण के घरवालों का आरोप है कि पुलिस ने थाने में ले जाकर अरुण के साथ मार पीट की, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने अरुण के परिजनों को बुलाया और कहा कि अरुण वाल्मीकि एकाएक गिर गए हैं और उन्हें अस्पताल ले जाना है।अस्पताल ले जाने पर डॉक्टर ने स्पष्ट रूप से बताया कि उनकी मृत्यु हो चुकी है।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अफसोस की बात है कि है कि सरकार ने जांच कार्यवाही की बात की लेकिन आज तक पुलिस के किसी भी अधिकारी व कर्मचारी पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। न ही उनके खिलाफ कोई विभागीय कार्यवाही हुई। न ही कोई जांच अब तक आगे बढ़ पाई है। परिवार के लोगों कोे प्रताड़ित किया गया, डराया, धमकाया गया। परिवार के लोग लगातार न्याय की मांग करते रहे।

अजय कुमार लल्लू ने मुख्यमंत्री से पूंछा की क्या एक गरीब, बाल्मिकी समाज के व्यक्ति के साथ आपका यही न्याय है। ऐसी क्या परिस्थिति है कि दोषी पुलिस कर्मियों पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। कौनसी ऐसी परिस्थिति है पुलिस कर्मियों की कोई जांच नहीं हुई। ये सरकार इस घटना को दबाना चाहती है पूरी घटना पर पर्दा डालना चाहती है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि महासचिव प्रियंका गांधी और एक एक कांग्रेस कार्यकर्ता पीड़ित परिवार के साथ खड़ा है। जब तक पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिल जाता हम इनकी लड़ाई सड़क से सदन तक लड़ते रहेंगे।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here