29 C
Mumbai
Thursday, December 8, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

राजस्थान में खुलासा लुटेरी दुल्हन गिरोह का: गिरोह में शामिल तीन युवक लुटेरी दुल्हन सहित गिरफ्तार

जयपुर। बगरू थाना पुलिस ने शादी का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए लुटेरी दुल्हन सहित गिरोह में शामिल तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने शादी करवाने के बहाने 1 लाख 80 हजार रुपये एडवांस लिए और फिर कानूनी दस्तावेज बनवाकर दूल्हे व दुल्हन के बीच सहमति से शादी करने के दस्तावेज तैयार करवाए। शादी की तारीख भी तय कर दी।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

लेकिन शादी होने से एक दिन पहले ही रात को दुल्हन घर में रखे जेवर व सामान समेटकर भाग निकली। इस संबंध में पीड़ित की ओर मामला दर्ज करवाया और फिर पुलिस ने मामला दर्ज कर करीब पांच महीने पुराने मामले का खुलासा करते हुए आरोपितों को पकडा। आरोपितों ने नागौर जिले के पीलवा कस्बे में भी शादी करने के बहाने एक व्यक्ति से ठगी की वारदात करना स्वीकार किया है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर (पश्चिम) ऋचा तोमर ने बताया कि बगरू थाना पुलिस ने शादी का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए आरोपित महिला दीपाली राव (36) निवासी महाराष्ट्र, मोहम्मद वकील उमर नजीर शाह (36) निवासी नागपुर महाराष्ट्र, गणेश नारायण शर्मा (44)निवासी फागी जिला जयपुर को गिरफ्तार किया है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

इस संबंध में पीडित राजेश कुमार शर्मा निवासी बगरू ने जुलाई में मामला दर्ज करवाया था कि उसकी शादी नहीं हो रही थी। तब राजेश की मुलाकात बगरू में रहने वाले गणेश नारायण शर्मा से हुई,जो कि शादी ब्याह करवाने का काम करता है। गणेश ने राजेश को शादी करवाने की बात कही और फिर उसने महाराष्ट्र की रहने वाली एक लड़की दीपाली के बारे में बताया।

इसके बाद आरोपित दलाल गणेश ने अपने परिचित दलाल विक्की शर्मा और मोहम्मद वकील के मार्फत उसे झांसे में ले लिया। जहां गैंग में शामिल दीपाली को लेकर पीड़ित राजेश कुमार के घर भी ले गए। दीपाली से शादी करवाने की एवज में दलालों ने राजेश शर्मा से 1 लाख 80 लाख की डिमांड की। जिस पर पीड़ित ने विश्वास में आकर राजेश ने रकम दे भी दी।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बदमाशों ने इसी साल 14 जून को सांभर कोर्ट से राजेश व दीपाली के बीच आपसी सहमति से शादी करने के दस्तावेज बनावाए। इसके बाद दीपाली को पीड़ित राजेश कुमार के घर छोड़ दिया। इसके बाद 20 जून को दीपाली की शादी राजेश से होना तय हुआ।

लेकिन एक दिन पहले ही 19 जून को दीपाली राव देर रात को पीड़ित राजेश कुमार के घर से सारा नकदी-जेवर व रुपए समेटकर भाग निकली। कई जानकारी करने के बाद पीडित थाने पहुंचा और मामला दर्ज करवाया। इधर पुलिस ने मामला दर्ज कर गठित टीमों ने मोबाइल फोन डिटेल्स से लोकेशन ट्रेस कर दीपाली, मोहम्मद वकील,गणेश नारायण व विक्की को पकड़ लिया।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here