27 C
Mumbai
Monday, August 15, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

विराट के बयान को BCCI ने किया ख़ारिज

प्रधान न्‍यायाधीश एनवी रमना ने सरकार और ईडी को मनीलॉन्ड्रिंग कानून के मनमाने इस्तेमाल पर फटकार लगाई है. सरकार की ओर से दलील दे रहे एएसजी एसवी राजू से SC ने कहा कि आप जांच की आड़ में एक्ट के विभिन्न प्रावधानों में घालमेल कर उसे हल्का कर रहे हैं.

चीफ जस्टिस एनवी रमना , जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस हिमा कोहली की बेंच में सुनवाई के दौरान पीठ ने कहा कि आप PMLA के तहत दस हजार रुपए के मामले को सौ रुपए के मामले की गंभीरता और अपराध की तीव्रता पर अपनी मनमर्जी से एक जैसी ही कार्रवाई कर रहे हैं.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

जस्टिस बोपन्ना ने आगे कहा कि आप सभी को सलाखों के पीछे नहीं डाल सकते, आपको तार्किक होना पड़ेगा.अगर आप सबको एक ही डंडे से हांकने लगेंगे तो कानून अपनी सार्थकता खो देगा. CJI ने कहा कि सभी मामलों में पीएमएलए का हथियार काम नहीं करेगा. ये काम काज का उचित तरीका नहीं है.

दरअसल सुप्रीम कोर्ट की इस पीठ के सामने सीबीआई की अर्जी थी. इसमें सीबीआई ने तेलंगाना हाईकोर्ट के उस फैसले को चुनौती दी गई है जिसमें मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी नरेंद्र कुमार पटेल को अग्रिम जमानत पर मंजूरी दे दी थी जबकि पटेल के खिलाफ PMLA के अलावा आईपीसी की धारा 420, 467, 468 और 471 के साथ 120 b के अलावा भ्रष्टाचार निरोधक कानून की धारा 13(2) 13(1xd) के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

बुधवार को विराट कोहली के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद भारतीय क्रिकेट में भूचाल आया हुआ है. टी20 की कप्तानी छोड़ने संबंधी विराट के बयान को लेकर हंगामा जारी है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उनसे कभी भी टी20 की कप्तानी नहीं छोड़ने का आग्रह नहीं किया गया था। कोहली का यह बयान सौरव गांगुली के उस बयान से उलट है जिसमें उन्होंने कहा था कि कोहली से कप्तानी नहीं छोड़ने की गुजारिश की गई थी।

अब विराट की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि बोर्ड ने सितंबर में कोहली से बात की थी और टी20 की कप्तानी नहीं छोड़ने को कहा था।

बीसीसीआई अधिकारी ने कहा, ‘विराट कोहली ये नहीं कह सकते कि हमने उन्हें लूप में नहीं रखा। हमने उनसे सितंबर में बात की थी और टी20 कप्तानी नहीं छोड़ने के लिए कहा था। कोहली ने जब टी20 की कप्तानी खुद छोड़ दी तो व्हाइट बॉल के लिए दो कप्तान रखना मुश्किल था। चेतन शर्मा ने वनडे की कप्तानी के बारे में मीटिंग वाले दिन सुबह में विराट को इस संबंध में बताया था।’

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए टीम के चयन से करीब डेढ़ घंटे पहले उनसे संपर्क किया गया और मीटिंग खत्म होने से ठीक पहले 5 चयनकर्ताओं ने बताया कि वनडे टीम के कप्तान वे नहीं होंगे।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here