26 C
Mumbai
Thursday, December 8, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

नाबालिग ने लिखा सुसाइड नोट, मां की कोख और कब्र ही बेटियों के लिए सुरक्षित जगह

तमिलनाडु में बीते शनिवार एक नाबालिग ने अपने सुसाइड नोट में यह कहते हुए आत्महत्या कर ली कि लड़कियां केवल मां की कोख और कब्र में ही सुरक्षित हैं। वह चेन्नई के एक स्कूल में 11वीं कक्षा की छात्रा थी। चेन्नई पुलिस ने पॉक्सो के तहत एक 21 वर्षीय कॉलेज छात्र को गिरफ्तार किया है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

वह पिछले हफ्ते चेन्नई के मंगडू में अपने घर में अपने कमरे की छत से लटकी हुई पाई गई थी। पुलिस ने दावा किया कि युवक ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है और उस पर पॉक्सो कानून की धाराएं लगाई गई हैं।

एक अधिकारी ने कहा कि लड़के ने नाबालिग लड़की के साथ शारीरिक संबंध बनाने की बात कबूल की है। पिछले दो सप्ताह से वह उसे प्रताड़ित कर रहा था। हमने गंदे संदेशों और तस्वीरों के आदान-प्रदान का पता लगाया है। इस सब से पहले आठ महीने तक उनके बीच अच्छे दोस्ताना संबंध थे।

‘यौन उत्पीड़न बंद करो’ शीर्षक वाले सुसाइड नोट में उसने एक पीड़ित को होने वाले मानसिक आघात यौन उत्पीड़न के बारे में लिखा। उसने माता-पिता से अपने बेटों को समाज में लड़कियों का सम्मान करना सिखाने की अपील की।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पत्र में लिखा गया कि हर मां-बाप को अपने बेटों को लड़कियों की इज्जत करना सिखाना चाहिए। रिश्तेदारों या शिक्षकों पर भरोसा न करें। मां की कोख और कब्र ही सुरक्षित जगह है. उसने कहा कि स्कूल या किसी रिश्तेदार का घर सुरक्षित नहीं है।

रिपोर्टों ने उसके परिवार के सदस्यों के हवाले से कहा है कि उसे उसके पिछले स्कूल के किसी व्यक्ति ने परेशान किया था। कथित तौर पर स्कूल बदलने से उसका उत्पीड़न समाप्त नहीं हुआ।

पुलिस ने कहा कि मृतक के दोस्तों ने बताया कि उसने हाल ही में उनसे दूरी बना ली थी। अपने पत्र में उसने कहा कि यौन उत्पीड़न असहनीय होता जा रहा था और इससे वह बहुत दर्द में थी लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

सुसाइड लेटर में कहा गया है कि वह अपनी पढ़ाई पर ध्यान नहीं दे पा रही थी। उसने बार-बार बुरे सपने आने और रात में सोने में नाकाम रहने के बारे में बात की।

पुलिस ने मामले की जांच के लिए चार विशेष टीमों का गठन किया है। उसके मोबाइल फोन कॉल रिकॉर्ड के आधार पर, पुलिस ने उन लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है जो उसे बार-बार फोन करते थे।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here