30 C
Mumbai
Friday, May 20, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

हिंसक रहा रामनवमी का त्यौहार देश के कई राज्यों में 

रामनवमी का त्योहार रविवार को मनाया गया. इस दौरान चार राज्यों में हिंसा देखने को मिली है, जिसमें गुजरात में एक युवक की मौत हो गई और एक अन्य घायल हो गया. वहीं, मध्य प्रदेश के खरगोन, पश्चिम बंगाल के हावड़ा शहर और झारखंड के लोहरदगा में भी हिंसा हुई है.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

ये हिंसा रामनवमी पर जुलूस निकालने के बाद कथित तौर पर शुरू हो गईं थी. अधिकारियों ने कानून व्यवस्था बनाने के लिए सुरक्षाबलों की तैनाती की और स्थिति पर काबू करने के लिए प्रतिबंध लगाए गए. कई इलाकों में कर्फ्यू समेत धारा 144 भी लगाई गई, ताकि शांति कायम की जा सके.

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लगभग 300 किलोमीटर दूर खरगोन शहर में रामनवमी के जुलूस के दौरान भड़की हिंसा में तीन पुलिसकर्मियों समेत कई लोगों के घायल हो गए. जुलूस पर पथराव, कुछ वाहनों और घरों में आगजनी की घटनाएं भी हुईं, जिसके बाद पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बंगाल के हावड़ा में भी हिंसा हुई. शहर की पुलिस ने ट्विटर पर लिखा, “सभी ध्यान दें कि हावड़ा सिटी पुलिस शिबपुर पीएस क्षेत्र में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए हर तरह की कार्रवाई कर रही है. सभी से अनुरोध है कि सोशल मीडिया पर कुछ भी पोस्ट करते समय अत्यधिक संयम और विवेक दिखाएं.”

हालांकि, सांप्रदायिक सद्भाव के दृश्य बंगाल के सिलीगुड़ी से सामने आए जहां मुस्लिम युवाओं को समारोहों के बीच एक रैली के दौरान पानी बांटते देखा गया.

गुजरात के हिम्मतनगर और खंभात शहरों में रामनवमी का जुलूस निकाला गया. इस दौरान दो समुदायों के बीच सांप्रदायिक झड़प हो गई, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और एक अन्य घायल हो गया. अधिकारियों ने बताया कि सांप्रदायिक झड़पों के दौरान पुलिस को पथराव करने वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. खंभात शहर आणद जिले में पड़ता है जबकि हिम्मतनगर साबरकांठा जिले में है.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पुलिस अधीक्षक अजीत राज्यन ने कहा कि रविवार दोपहर को खंभात में रामनवमी जुलूस के दौरान दो समुदायों के बीच हुई पथराव की घटना के बाद घटनास्थल से लगभग 65 वर्षीय एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया, जिसकी शिनाख्त नहीं हो सकी है. इस घटना में एक अन्य व्यक्ति घायल हुआ, जबकि उपद्रवियों ने कुछ दुकानों में आग लगा दी. हालात को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े गए.

झारखंड के लोहरदगा जिले के हिरही भोक्ता बगीचा इलाके के पास रामनवमी की शोभायात्रा के दौरान उपद्रव हुआ जिससे पूरे जिले में तनाव फैल गया. हालात को देखते हुए इलाके में भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई. पथराव के बाद उपद्रवियों ने दो घरों और मेले में लगे ठेले, मिठाई की दुकान, एक पिकअप वाहन और 10 बाइक में आग लगा दी गई.

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here