25 C
Mumbai
Friday, July 1, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

इस देश की रीढ़ की हड्डी को पीएम मोदी ने तोड़ दिया है: राहुल गाँधी

AICC दफ्तर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड सांसद राहुल गांधी ने कहा कि मुझे कुछ दिन पहले ईडी दफ्तर में बुलाया गया, छोटा सा कमरा था। 12 बाई 12 का कमरा था, बीचे में मेज थी कंप्यूटर था। ईडी के ऑफिसर थे मैं उनके साथ कमरे में बैठा था। शाम हुई मैं कुर्सी से नहीं हिला। अधिकारियों ने पूछा कि हम थक गए हैं लेकिन आप नहीं, तो उन्होंने पूछा की आपका क्या सीक्रेट है। मैंने कहा कि मुझे कितने भी घंटे बिठा दो मुझे फर्क नहीं पता, मैंने उन्हें सच बात नहीं बताई।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

लेकिन सच ये है कि उस कमरे में सिर्फ राहुल नहीं कांग्रेस का हर कार्यकर्ता था। राहुल गांधी ने कहा कि आप एक राहुल को थका सकते हो लेकिन करोड़ों कार्यकर्ता को नहीं थका सकते हो। राहुल गांधी ने आगे कहा कि उस कमरे इस सरकार के खिलाफ जो भी बिना डरे लड़ता है वो भी बैठा था। फिर भला मैं कैसे थकता। राहुल गांधी ने आगे बताया कि आखिरी दिन अधिकारियों ने कहा कि राहुल जी आपने इतने सरल तरीके से जवाब दिया इतनी पेंशंश आपके अंदर कैसे आई।

राहुल ने कहा कि कांग्रेस में इतने साल से हूं पेशेंस नहीं आएगी तो क्या आएगी। बीजेपी पर तंज कसते हुए राहुल गांधी ने कहा कि लेकिन वहां हाथ जोड़ लो, मत्था टेक लो और झूठ बोल लो काम वैसे भी हो जाएगा। राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं को डराया नहीं जा सकता है। कांग्रेस पार्टी के नेता को दबाया, धमकाया नहीं जा सकता है, क्योंकि ये पार्टी सच्चाई के लिए लड़ती है। झूठ जरूर थक जाएगा लेकिन सच्चाई कभी नहीं थकती।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

राहुल गांधी ने कहा कि आज सबसे जरूरी बात रोजगार की है। मोदी सरकार ने रीड की हड्डी MSME को तोड़ दिया है। मैं आज नहीं महीनों से कह रहा हूं युवाओं से कह रहा हूं, हिंदुस्तान के पीएम ने इस देश की रीढ़ की हड्डी को तोड़ दिया है। चाहे सरकार कुछ भी कर ले अब वो देश के युवाओं को रोजगार नहीं दे पाएगा। देश के दो तीन उद्योगपती देश को रोजगार नहीं दिला सकते हैं।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि जो आखिरी रास्ता था, देशभक्ति का, आर्मी का, फोर्स का. उस रास्ते को भी इन्होंने बंद कर दिया है। वे ‘एक रैंक, एक पेंशन’ की बात करते थे, लेकिन अब ‘न रैंक और न पेंशन’ है। युवा कड़ी मेहनत करेंगे और अपने घरों को वापस जाएंगे। एक बार सेवानिवृत्त होने के बाद, उन्हें कोई रोजगार नहीं मिलेगा। वे देश की सेना को कमजोर कर रहे हैं ।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

राहुल गांधी ने कहा कि दूसरी तरफ आज चीन की सेना हिंदुस्तान की धरती में बैठी है। हजार किलोमीट की जमीन चीन ने हमसे छीनी है। इस बात को भारत सरकार ने खुद माना है। राहुल गांधी ने कहा कि सेना को मजबूत करने की बजाय ये सेना को कमजोर कर रही है। इसका नजीता तब आएगा जब युद्ध होगा। राहुल गांधी ने कहा कि जो बात मैं कह रहा हूं उसे याद रखना। ये लोग देश का नुकसान कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि मैंने कृषि कानून के लिए भी कहा था कि सरकार को बिल वापस लेना होगा, वही बात मैं इस अग्निपथ योजना को लेकर कह रहा हूं। असली देशभक्ति सेना को मजबूत करने की होगी ना की कमजोर करने की। राहुल गांधी ने कहा कि हम इस योजना को भी हर हार में रद्द करवाएंगे।

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here