25 C
Mumbai
Monday, August 8, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

गेहलोत कन्हैया के घर वालों से मिले

उदयपुर में हुए वीभत्स हत्याकाण्ड के शिकार हुए कन्हैया लाल के परिजनों से आज राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उनके घर जाकर मुलाकात की. पीड़ित परिवार को संवेदनाएं देने के बाद अशोक गहलोत ने मीडिया से सम्बोधन में कहा कि इस हत्याकाण्ड से पूरा देश दुखी और आक्रोशित है. मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों हत्यारों के तार अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों से जुड़े हुए हैं. अशोक गेहलोत ने कहा कि सरकार अदालत से मांग करेगी इस मामले की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई की जाय और एक हफ्ते के अंदर फैसला सुना दिया जाय. वहीँ कांग्रेस ने सचिन पायलट ने भी कहा है कि दोषियों को ऐसी सजा दी जाय कि वो पूरे देश के लिए एक मिसाल बने.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

गेहलोत ने कहा कि उदयपुर की घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया जिस तरीके से हत्या की गयी वो जघन्य अपराध है। हमने तत्काल, त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों को पकड़ लिया, SOG ATS को केस दे दिया और रातभर में ही पता लगा लिया अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से संबंधित है ये घटना,मायने हैं आतंकवाद से संबंधित घटना है. यूएपीए के अंतर्गत जो केस दर्ज किए गए हैं आतंकवाद के नाम पर, उसके बाद में NIA ने केस ले लिया है अब SOG उनको पूरा सहयोग करेगी। NIA का दायरा बड़ा होता है,राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय जब कोई ऐसी घटना होती है आतंकवाद की उसी रूप में वो तमाम तरीके से प्रयास करती है कि कैसे हम तह तक पहुंचें।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

गेहलोत ने कहा कि मुझे उम्मीद है NIA त्वरित कार्रवाई करके जितनी हो उतनी जल्दी सजा दिलवाए इनको, ये अपेक्षा पूरे प्रदेशवासियों की और मैं समझता हूं पूरे देशवासी चाहते हैं। इस घटना को लेकर जो आक्रोश दिलों में पैदा हुआ है हर नागरिक चाहता है त्वरित न्याय मिले,त्वरित कार्रवाई हो और जल्द से जल्द सजा मिले।

बता दें की कन्हैया हत्याकांड को लेकर उदयपुर में आज हिन्दू संगठनों ने विरोध मार्च निकाला है. भारी सुरक्षा के बीच जुलूस निकालने के दौरान लोगों ने भगवा झंडा भी लहराए. उदयपुर हत्‍याकांड को लेकर लोग काफी आक्रोशित नजर आए.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

हत्या के विरोध में लगभग 1,000 प्रदर्शनकारी भगवा झंडे लिए न्याय की मांग दोहराते हुए नारे लगा रहे थे. बता दें कि प्रशासन मंगलवार को हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद से शहर में सभी दुकानें बंद हैं, जहां कर्फ्यू लगा हुआ है. बावजूद ये जुलूस निकाला गया है.

उदयपुर घटना पर कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा है कि मैं इसे आतंकी हमला मानूंगा. सरकार ने भी कहा है कि इसे एक तरह से आतंकी हमले की नज़र से ही देखना पड़ेगा. आरोपी पकड़े गए हैं और फास्ट ट्रैक कोर्ट द्वारा इन्हें ऐसी सज़ा मिले जो देश, दुनिया में एक उदाहरण बने. पीड़ित परिवार के लोगों को सारी मदद प्रदान करेंगे. इस घटना में जो भी ज़िम्मेदार, या कितना बड़ा कोई व्यक्ति या अधिकारी है उस पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए.

Latest news

ना ही पक्ष ना ही विपक्ष, जनता के सवाल सबके समक्ष

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here